स्कन्द षष्ठी 2019: भगवान कार्तिकेय को स्कन्द देव के नाम से भी जाना जाता है. जिनको हिन्दू देवताओं में महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है. स्कन्द देव भगवान शिव और माँ पार्वती के पुत्र और भगवान श्री गणेश के बड़े भाई हैं. भगवान स्कन्द को मुरुगन, कार्तिकेय और सुब्रहमन्य के नाम से जाना जाता है.

हर महीने के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को भगवान स्कन्द के लिए उपवास रखा जाता है और पूजा अर्चना की जाती है. इस दिन उपवास रखना बहुत खास माना जाता है. षष्ठी तिथि जिस दिन पंचमी तिथि के साथ मिल जाती है उस दिन स्कन्द षष्ठी का व्रत करना शुभ होता है. इसलिए स्कन्द षष्ठी का व्रत पंचमी तिथि के दिन भी रखा जाता है. अन्य क्षेत्रों की तुलना में दक्षिण भारत में स्कन्द षष्ठी को बड़े श्रद्धा भाव से मनाया जाता है. इस दिन लोग भगवान् कार्तिकेय के लिए उपवास रखते हैं, उनकी पूजा करते हैं और आशीर्वाद मांगते हैं. स्कन्द षष्ठी को कन्द षष्ठी के नाम से भी जाना जाता है.

Basant Panchami 2019: बच्‍चे का पढ़ाई में नहीं लगता मन, करें ये काम, मां सरस्‍वती देंगी शिक्षा का वरदान

स्कन्द षष्ठी पर ऐसे करें पूजा

  • स्कन्द षष्ठी के दिन व्रतधारी व्यक्तियों को दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके भगवान कार्तिकेय का पूजन करना चाहिए.
  • पूजन में घी, दही, जल और पुष्प से अर्घ्य प्रदान करना चाहिए.
  • रात्रि में भूमि पर शयन करना चाहिए.
  • भगवान कार्तिकेय की पूजा का मंत्र – ‘देव सेनापते स्कन्द कार्तिकेय भवोद्भव. कुमार गुह गांगेय शक्तिहस्त नमोस्तु ते
  • इसके अलावा स्कन्द षष्ठी एवं चम्पा षष्ठी के दिन भगवान कार्तिकेय के इन मंत्रों का जाप भी किया जाना चाहिए.
  • कार्तिकेय गायत्री मंत्र- ‘ॐ तत्पुरुषाय विद्महे: महा सैन्या धीमहि तन्नो स्कन्दा प्रचोदयात’.
  • यह मंत्र हर प्रकार के दुख एवं कष्टों का नाश करने के लिए प्रभावशाली है.
  • शत्रु नाश के लिए पढ़ें ये मंत्र- ॐ शारवाना-भावाया नम:
    ज्ञानशक्तिधरा स्कन्दा वल्लीईकल्याणा सुंदरा
    देवसेना मन: कांता कार्तिकेया नामोस्तुते.
  • इस तरह से भगवान कार्तिकेय का पूजन-अर्चन करने से जीवन के सभी कष्‍टों से मुक्ति मिलती है.

Basant Panchmi पर क्‍यों की जाती है कामदेव पूजा? दांपत्‍य जीवन पर होता है ये असर…

यहां देखें स्कन्द षष्ठी का कैलेंडर 

तारीख दिन पर्व
12 जनवरी 2019 शनिवार जनवरी स्कन्द षष्ठी
10 फरवरी 2019 रविवार फरवरी स्कन्द षष्ठी
12 मार्च 2019 मंगलवार मार्च स्कन्द षष्ठी
10 अप्रैल 2019 बुधवार अप्रैल स्कन्द षष्ठी
10 मई 2019 शुक्रवार मई स्कन्द षष्ठी
08 जून 2019 शनिवार जून स्कन्द षष्ठी
07 जुलाई 2019 रविवार जुलाई स्कन्द षष्ठी
05 अगस्त 2019 सोमवार अगस्त स्कन्द षष्ठी
04 सितंबर 2019 बुधवार सितंबर स्कन्द षष्ठी
03 अक्टूबर 2019 गुरुवार अक्टूबर स्कन्द षष्ठी
02 नवंबर 2019 शनिवार नवंबर स्कन्द षष्ठी
02 दिसंबर 2019 सोमवार दिसंबर स्कन्द षष्ठी
31 दिसंबर 2019 मंगलवार दिसंबर स्कन्द षष्ठी

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.