Sone Ke Niyam: नींद हर व्यक्ति के लिए काफी जरूरी होती है. पूरी नींद लेने से व्यक्ति तनाव से दूर रहता है. साथ ही उसे किसी बीमारी का सामना नहीं करना पड़ता. वहीं, अगर नींद पूरी ना हो तो कई बीमारियां लगनी शुरू हो जाती है. जिससे मानसिक रोग बढ़ने की आशंका रहती है. भारतीय पुराणों में अच्छी नींद (Achi Neend Ke Niyam) से जुड़े कुछ नियमों के बारे में बताया गया है. आइए जानते हैं इनके बारे में-

– घर में अकेले, मंदिर या शमशान में कभी भी नहीं सोना चाहिए. अगर आप घर में अकेले सो रहे हैं तो अपने सिरहाने के पास पानी से भरा गिलास या लोहे का चाकू जरूर रखें.

– कभी भी भूलकर भी किसी सोए हुए व्‍यक्ति को अचानक से नहीं जगाना चाहिए . इससे आप पाप के भागीदार बनते हैं.

– लंबी उम्र चाहते हैं तो ब्रह्म मुहूर्त में ही सोकर उठ जाना चाहिए. ऐसा करना आपकी सेहत के लिए अच्छा माना जाता है. इसके अलावा व्यक्ति को कमरे में अंधेरा करके सोना चाहिए. कमरे में थोड़ी बहुत रोशनी जरूर आनी चाहिए.

– व्यक्ति को कभी भी बिस्तर पर गंदे और गीले पैर लेकर नहीं जाना चाहिए. माना जाता है टूटे हुए बिस्तर और जूठे मुंह के साथ सोने से घर में गरीबी आती है.

– नग्‍न होकर कभी भी नहीं सोना चाहिए. ऐसा करने आपके घर में धन की कमी होती है और आप कई बीमारियों से भी घिर सकते हैं.

– दिन में तथा सूर्योदय एवं सूर्यास्त के समय सोने नहीं चाहिए इससे व्यक्ति रोगी और दरीद्र बनता है. सूर्यास्त के एक प्रहर के बाद ही शयन करना चाहिए.