पौष महीने में सूर्य पूजा का खास महत्‍व बताया गया है. कहा जाता है कि इस माह में सूर्य पूजा से मनचाहा फल मिलता है.

Rashifal January-December 2019 Sagittarius: धनु राशि के लिए कैसा रहेगा नया साल, आंख बंद कर भरोसा करने से बचें…

आखिर इस महीने में सूर्य उपासना का इतना महत्‍व क्‍यों है और पूजा किस तरह से करने से देवता प्रसन्‍न होते हैं, जानें.

फोटो क्रेडिट- disquscdn.com

फोटो क्रेडिट- disquscdn.com

 

हिन्दू पंचांग के दसवें महीने को पौष माह कहा जाता है. मान्यता है कि इस महीने में सूर्य ग्यारह हजार रश्मियों के साथ व्यक्ति को उर्जा और उत्तम सेहत प्रदान करते हैं. पौष मास में अगर सूर्य की उपासना की जाए तो उत्‍तम सेहत बनी रहती है.

Health Rashifal January-December 2019: जानें 2019 में आप रहेंगे स्‍वस्‍थ या होंगे बीमार, उपाय भी पढ़ें

कैसे करें पूजा
सुबह स्नान करें. सूर्य को जल अर्पित करें. जल अर्पित करते हुए तांबे के बर्तन का उपयोग करें. जल में रोली और लाल फूल जरूर डालें. सूर्य के मंत्र “ॐ आदित्याय नमः” का जाप करें. आप ऊँ सूर्याय नम:, ऊँ भास्कराय नम: का भी जाप कर सकते हैं. सूर्य के लिए रविवार को गुड़ का दान करना चाहिए.

कहा जाता है कि जिन लोगों की कुंडली में सूर्य शुभ स्थिति में नहीं होते हैं, अगर वे इस माह में रोज सूर्य को जल चढ़ाते हैं तो सूर्य दोष दूर होता है. चूंकि सूर्य देव ऐसे देवता है जिन्‍हें आप देख सकते हैं, इसलिए इनकी पूजा में जल अर्पण करना, अर्घ्‍य देने का विशेष महत्‍व बताया गया है.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.