नई दिल्ली: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, गुरुवार का दिन भगवान विष्णु का होता है. इस दिन भगवान विष्णु का पूजा -अर्चना करने से व्यक्ति के जीवन में सुख और शांति आती है. भगवान विष्णु को खुश करना करना काफी आसान होता है. ज्योत‌िषशास्‍त्र में भी कुछ ऐसा ही माना गया है कि बृहस्पत‌ि ग्रह की अनुकूलता के लिए कुछ ऐसे काम हैं, जो गुरूवार के दिन नहीं करने चाहिए. सुखद पारिवारिक जीवन, श‌िक्षा, ज्ञान और धन इनकी कृपा से ही प्राप्त होता है. शास्त्रों के अनुसार कुछ ऐसे काम हैं, जो गुरूवार के दिन नहीं करने चाहिए अन्यथा अनुकूल गुरू भी प्र‌त‌िकूल प्रभाव देता है.Also Read - Nirjala Ekadashi 2021 Imporant Things: पहली बार रखने जा रही हैं निर्जला एकादशी का व्रत? जानें ये 10 प्रमुख बातें

गुरुवार के दिन करें इन मंत्रों का जाप Also Read - Mohini Ekadashi Ke Upay: मोहिनी एकादशी के दिन करें ये आसान उपाय, धनधान्य में होगी वृद्धि

– जीवश्चाङ्गिर-गोत्रतोत्तरमुखो दीर्घोत्तरा संस्थित: पीतोश्वत्थ-समिद्ध-सिन्धुजनिश्चापो थ मीनाधिप:. सूर्येन्दु-क्षितिज-प्रियो बुध-सितौ शत्रूसमाश्चापरे सप्ताङ्कद्विभव: शुभ: सुरुगुरु: कुर्यात् सदा मङ्गलम्..
– ॐ नमोः नारायणाय.
– ॐ नमोः भगवते वासुदेवाय नम:
– ॐ नमो नारायण. श्री मन नारायण नारायण हरि हरि
– ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर. भूरि घेदिन्द्र दित्ससि. ॐ भूरिदा त्यसि श्रुत: पुरूत्रा शूर वृत्रहन्.
– आ नो भजस्व राधसि. Also Read - Guruwar Ke Upay: गुरुवार के दिन करें ये अचूक उपाय, जल्द होगी शादी, मिलेगा संतान का सुख

शास्‍त्रों के अनुसार गुरुवार को घर पर खिचड़ी न तो बनानी चाहिए और न ही खानी चाहिए. ऐसा करना गुरु के अशुभ फल का कारक होता है. मान्‍यता है कि गुरुवार को महिलाओं के बाल धोने से संपत्ति और संपन्‍नता में कमी आती है. आअए जानते हैं और भी कामों के बारे में जो गुरुवार के दिन नहीं किए जाने चाहिए.

– प‌िता, गुरू और साधु-संत बृहस्पत‌ि का प्रतिनिधि करते हैं. कभी भी इनका अपमान न करें.
– इस दिन ख‌िचड़ी न तो घर में बनाएं और न खाएं.
– इस दिन नाखून नहीं काटने चाहिए. इससे घर में नकारात्मकता आती है.
– इस दिन पुरुषों को दाढ़ी नहीं बनानी चाहिए. इससे गुरु कमजोर होता है. और जीवन में बाधाएं आती हैं.
– इस दिन महिला और पुरुषों को बाल नहीं कटवाने चाहिए. इससे बृहस्पतिवार कमजोर हो जाता है. और उन्नति में बाधाएं आती हैं.
– इस दिन महिलाओं को बाल नहीं धोने चाहिए. गुरुवार का दिन पति और संतान का कारक होता है. इस दिन सिर धोने से बृहस्पति की स्थिति कमजोर हो जाती है.