Tirupati Balaji Temple: देश भर में प्रमुख देवस्थान खोले जा रहे हैं. इसी कड़ी में हिंदुओं के प्रमुख मंदिरों में से एक तिरुपति बालाजी मंदिर भी खोल दिया गया है. यहां भक्त दर्शन करने पहुंच रहे हैं. Also Read - तिरुपति मंदिर के पास 9000 किलो से ज्यादा सोना, जानें छिपा कहां है...

तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) के कार्यकारी अधिकारी के. एस. जवाहर रेड्डी ने बुधवार को कहा है कि वैकुंठ द्वार दर्शनम के लिए केवल वही श्रद्धालु आएं, जिनके पास टिकट या टोकन हो. भगवान वेंकटेश्वर तिरुमाला के दर्शन के लिए केवल उन भक्तों को ही अनुमति दी जाएगी, जिनके पास टिकट होगा. Also Read - इस मंदिर के पास है करीब 30000000000 रुपये का सोना, क्यों... भरोसा नहीं हो रहा

रेड्डी ने कहा, “टिकट रहित और टोकन रहित श्रद्धालुओं को मौजूदा कोविड की स्थिति में अपनी तीर्थ यात्रा को स्थगित करना होगा.” Also Read - HCL के चेयरमैन शिव नादर ने तिरुपति मंदिर को दान किये एक करोड़ रुपये

उन्होंने बुधवार को तिरुमाला में व्यवस्थाओं का जायजा लेने के बाद स्पष्ट किया कि जिन श्रद्धालुओं के पास वैकुंठ द्वार दर्शन के लिए टिकट और टोकन होंगे, केवल उन्हें अलीपिरी से तिरुमाला जाने की अनुमति दी जाएगी.

उन्होंने कहा, “मौजूदा कोरोना हालात के कारण हमने पहले ही ऑनलाइन दो लाख रुपये के 300 टिकट जारी कर दिए हैं और तिरुपति में 24 दिसंबर को ऑफलाइन एक लाख के टिकट जारी करने जा रहे हैं.”

कार्यकारी अधिकारी ने टिकट और टोकन के बिना श्रद्धालुओं को तिरुमाला न आने की सलाह दी.
(एजेंसी से इनपुट)