Vaishakha Month 2021: हिंदू कैलेंडर (पंचांग) के अनुसार वैशाख मास साल का दूसरा महीना है. वैशाख का महीना साल 2021 का 28 अप्रैल यानी आज से शुरू हो रहा है और 26 मई 2021 तक चलेगा. इस महीने को भगवान विष्णु का प्रिय महीना माना जाता है. हिंदु मानयताओं के अनुसार यह महीना बेहद शुभ होता है. मुनियों में श्रेष्ठ नारद मुनि के अनुसार तीन महीने वैशाख, कार्तिक और माघ सबसे अच्छे माने गए है. इस महीने में भक्त को उसके बुरे कर्मों के परिणाम से मुक्त करने की पवित्रता मिलती है.Also Read - Chandra Grahan 2022: चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं रहें सावधान, रखना होगा इन बातों का ख़ास ख़्याल | Watch Video

वैशाख के महीने में कई महत्वपूर्ण पर्व आते है. इस महीने में अक्षय तृतीया, बुद्ध जयंती, मोहिनी एकादशी, भौमावस्या जैसे कई महत्वपूर्ण पर्व मनाए जाएंगे. इस महीने शुभ कार्य करने के लिए अमृतसिद्धि योग, रवियोग और सर्वार्थसिद्धि योग बन रहे है. इस महीने में 12 योग ऐसे है जिसमें आप शुभ कार्य कर सकते हैं. Also Read - Haryana: विधानसभा में धर्मांतरण-रोधी बिल पारित, कांग्रेस ने विरोध जताया, ये हैं प्रावधान

आइए आपकों बताते है इस महीने के प्रमुख व्रत और त्योहारों के बारे में- Also Read - Hijab Row: Karnataka HC ने कहा- कुछ ताकतों ने ड्रेस कोड को लेकर विवाद उत्पन्न किया और यह पूरे भारत में फैल रहा

7 मई, 2021 शुक्रवार – वरुथिनी एकादशी
8 मई, 2021 शनिवार – प्रदोष व्रत
11 मई, 2021 मंगलवार – भौमावस्या, सतुवाई अमावस्या,
14 मई, 2021 शुक्रवार – अक्षय तृतीया, परशुराम जयंती
18 मई, 2021 मंगलवार – गंगा सप्तमी
19 मई, 2021 बुधवार – चित्रगुप्त प्राकट्योत्सव
20 मई, 2021 गुरुवार – जानकी जयंती
22 मई, 2021 शनिवार – मोहिनी एकादशी
25 मई, 2021 मंगलवार – नवतपा शुरू
26 मई, 2021 बुधवार – बुद्ध जयंती, वैशाख पूर्णिमा

इस महीने बनने वाले शुभ योग

इस वैशाख के महीने में कई शुभ योग बन रहें है. जानिए इस महीने के शुभ योग के बारे में-

-2 मई 2021 रविवार को रवियोग बन रहा है.
-3 मई 2021 सोमवार
-12 मई 2021 बुधवार
-15 मई 2021 शनिवार को रवियोग बन रहा है.
-17 मई 2021 सोमवार को रवियोग बन रहा है
-18 मई 2021 मंगलवार को रवियोग बन रहा है.
-22 मई 2021 शनिवार को रवियोग बन रहा है.
-23 मई 2021 रविवार
-26 मई 2021 बुधवार को सर्वार्थसिद्धि योग बन रहा है.
-23 मई, रविवार 2021 और 26 मई 2021 बुधवार को अमृतसिद्धि योग बन रहा है जो बहुत शुभ है.