Vastu Shastra Tips: हम सभी के घर में पूजा घर जरुर होता है जहां हम देवी-देवताओं की मूर्तियों को स्थापित करते है. ज्यादातर लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं होती कि घर में किस तरह मंदिर स्थापित कराए और बिना किसी आचार्य, ब्राह्मण आदि से जानकारी लिए वह मंदिर स्थापित कर देते है. घर में मंदिर अगर वास्तु के अनुसार ना हो तो यह घर में कलेश की वजह बन सकता है. आचार्यो के अनुसार देवी -देवताओं की मूर्तियां घर में किस जगह स्थापित करनी है यह ठीक से जनना बहुत जरूरी है.Also Read - हल्दी का एक उपाय दूर करेगा सभी वास्तु दोष, जानें ऐसे ही कुछ अनोखे उपाय

अगर मंदिर गलत जगह रहे तो यह घर में कलेश और अशांति का कारण बन सकता है. घर में जब भी देवी-देवताओं की मूर्ति स्थापित करें तो इस बात का विशेष ध्यान रखें कि यह सही जगह पर स्थापित हो. आइए आपकों बताते है मंदिर और देवी-देवताओं की मूति और तस्वीर कैसे लगाएं, जिससे घर में सुख-समृद्धि आए- Also Read - किचन के 10 वास्तु टिप्स घर को बनाएंगे खुशहाल, जानें यहां रसोई घर के महत्वपूर्ण नियम

1. भगवान गणेश की पूजा हमेशा सबसे पहले किया जाता है. भगवान गणेश की मूर्ति हमेशा केसरी या पीले रंग के कपड़ो पर रखना चाहिए. यब घर के लिए बहुत शुभ होता है. इसके अलावा गणेश प्रतिमा नृत्य करती मुद्रा में हो तो यह बहुत ही शुभ होता है. Also Read - Vastu Tips: क्या आपके घर में भी हैं ये 3 चीजें? जीवन को कर सकती हैं बर्बाद

2. अगर आपके घर के मंदिर में भगवान कृष्ण की बालरूपी मूर्ति रखी है तो यह घर के लिए बहुत शुभ मानी जाती है. अगर घर में राधा कृष्ण की मूर्ति जुगल-जोड़ी में हो तो यह खड़ी मुद्रा में रखें.

3. घर के मंदिर में कभी भी शिवलिंग की स्थापना नहीं करनी चाहिए. इसकी जगह आप शिवजी की तस्वीर रख सकते है.

4. घर में धन की देवी लक्ष्मी और कुबेर की मूर्ति खड़ी हुई नहीं होनी चाहिए. यह मूर्ति बैठी हुई रखने से घर के लिए शुभ माना जाता है.

5. घर में सुख के लिए भगवान विष्णु की मूर्ति या तस्वीर रखें. साथ ही उनके साथ लक्ष्मी जी की स्थापना जरुर करें.

6. जिस घर में भगवान राम के साथ मां जानकी और हनुमान की मूर्ति की स्थापना होती है तो वहां सुख और प्रेम का वास रहता है.

7. मंदिर में एक बात का ख्याल रखना बहुत जरूरी है कि भगवान की मूर्ति या तस्वीर कभी भी सीधे जमीन पर नहीं रखनी चाहिए. यह बहुत अशुभ माना जाता है.

8. घर में अगर हनुमान जी की मूर्ति हो तो उसमें वह पर्वत उठाते या अपनी शक्ति का प्रदर्शन करते दिखाई दें रहें हों. यह मूर्ति या तस्वीर बहुत शुभ माना गाया है