Vinayaka Chaturthi 2021 Upay: हिन्दु कैलेण्डर में प्रत्येक चन्द्र मास में दो चतुर्थी होती है. हिन्दु धर्मग्रन्थों के अनुसार चतुर्थी तिथि भगवान गणेश की तिथि है. अमावस्या के बाद आने वाली शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी (Vinayaka Chaturthi 2021) कहते हैं और पूर्णिमा के बाद आने वाली कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी कहते हैं. इस बार विनायक चतुर्थी (Vinayaka Chaturthi 2021 Upay) 14 जून 2021 को मनाई जा रही है.Also Read - Ekadanta Sankashti Chaturthi 2021 Date: कब है एकदंत संकष्टी चतुर्थी? बन रहा है शुभ योग, जानें समय और पूजन विधि

विनायक चतुर्थी को वरद विनायक चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है. भगवान से अपनी किसी भी मनोकामना की पूर्ति के आशीर्वाद को वरद कहते हैं. जो श्रद्धालु विनायक चतुर्थी का उपवास करते हैं भगवान गणेश उसे ज्ञान और धैर्य का आशीर्वाद देते हैं. ज्ञान और धैर्य दो ऐसे नैतिक गुण है जिसका महत्व सदियों से मनुष्य को ज्ञात है. जिस मनुष्य के पास यह गुण हैं वह जीवन में काफी उन्नति करता है और मनवान्छित फल प्राप्त करता है. इस दिन ये अचूक उपाय किये जाएं तो गृहक्लेश दूर होता है. घर में समृधि आती है. धन-वैभव की बढ़ोत्तरी होती है. आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में Also Read - भगवान गणेश द्वारा लिखे गए महाभारत के अध्याय आज भी यहां रखे हैं, आप भी कर सकते हैं दर्शन...

– विनायक चतुर्थी के दिन क्रिस्टल से बने गणेश जी की मूर्ति की पूजा करने से घर के सभी वास्तुदोष दूर होते हैं. Also Read - भारत के आखिरी गांव में है ये रहस्यमयी गुफा, महाभारत से जुड़ा है रहस्य, खुद भगवान गणेश ने...

– विनायक चतुर्थी के दिन गणपति पर चांदी का चौकौर टुकड़ा चढ़ाने से संपत्ति के विवाद सुलझ जाते हैं.

– इस दिन घर के मुख्य द्वार पर आम, पीपल या नीम से निर्मित गणेश की जी मूर्ति लगाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है.

– विनायक चतुर्थी के दिन भगवान गणेश को शतावरी चढ़ाएं. इससे मानसिक कष्ट दूर होते है और शांति मिलती है.

– विनायक चतुर्थी के दिन श्वेतार्क गणेश के मूर्ति की पूजा करनी चाहिए. माना जाता है कि ऐसा करने से घर में धन-धान्य और सुख की वृद्धि होती है.