नई दिल्ली: दिल्ली में शुक्रवार को ईद उल अजहा के चांद के दीदार हो गए. बकरीद का त्यौहार 12 अगस्त को मनाया जाएगा. ईद उल जुहा या बकरीद, ईद उल फित्र के दो महीने नौ दिन बाद मनाई जाती है. बता दें कि ईद उल अजहा का चांद 10 दिन पहले दिखता है.Also Read - Wasim Rizvi Dharm Pravirtan: शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमेन वसीम रिजवी ने इस्लाम छोड़ा, हिंदू धर्म अपनाया

फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने बताया कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों समेत देश के कई हिस्सों में चांद नजर आ गया है. लिहाजा बकरीद का त्यौहार 12 अगस्त, दिन सोमवार को मनाया जाएगा. वहीं इमारत-ए-शरिया हिंद ने भी ऐलान किया कि शुक्रवार शाम को इस्लामी महीने ज़ुलहज्जा का चांद नजर आ गया है और शनिवार को इस्लामी कलैंडर के आखिरी महीने की पहली तारीख है. इमारत-ए-शरिया हिंद ने बताया कि दिल्ली का आसमान साफ था जहां चांद नजर आ गया. Also Read - चरमपंथी के आगे फिर झुका पाकिस्तान, इमरान सरकार ने प्रतिबंधित इस्लामी समूह के 350 सदस्यों को किया रिहा

सय्यद अहमद बुखारी ने भी चांद नजर आने का किया ऐलान
इसके अलावा गाजियाबाद के साथ उत्तर प्रदेश के कई शहरों, पटना समेत बिहार के कई हिस्सों में बकरीद का चांद दिखने की तस्दीक हुई है. लिहाजा 12 अगस्त को ईद उल जुहा मनाई जाएगी. दिल्ली की जामा मस्जिद के इमाम सय्यद अहमद बुखारी ने भी कहा कि शुक्रवार को इस्लामी कलैंडर के आखिरी महीने का चांद नजर आ गया है और बकरीद का त्यौहार 12 अगस्त को मनाया जाएगा. ईद उल अजहा का चांद 10 दिन पहले दिखता है. (इनपुट एजेंसी) Also Read - नार्वे में तीर कमान से हमला कर ले ली 5 लोगों की जान, कुछ दिन पहले ही धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बना था आरोपी