नई दिल्‍ली: मोरपंख जो कि भगवान श्रीकृष्ण के मुकुट की शोभा बढ़ाता है, इसे बहुत पवित्र माना गया है. ऐसी मान्‍यता है कि मानव जीवन की बड़ी मुश्किलों को दूर करने में मोर पंख मददगार होता है. इसके अलावा चूंकि मोरपंख कई देवी-देवताओं से संबंधित है, इसलिए इसे घर में रखना बड़ा शुभ माना गया है. मोर पंख को घर के मंदिर में और बच्‍चों के कमरे में रखना चाहिए. ऐसा करने से निगेटिव एनर्जी उस जगह नहीं रह पाती है.

Amalaki Ekadashi 2019: खरमास में आ रही आमलकी एकादशी, जरूर करें व्रत, यहां पढ़ें कथा…

आइये आज हम जानते हैं मोर पंख से जुड़ी वो बातें, जिन्‍हें अपनाकर आप अपने जीवन में बदलाव ला सकते हैं:-

1. दुश्मन बन जाएगा दोस्‍त
हर किसी के जीवन में ऐसा इंसान जरूर होता है जो किसी न किसी तरीके से उसे परेशान कर रहा होता है. ऐसे इंसान से मुक्ति पाने के लिए मोर पंख के टोटके को आजमाया जा सकता है. किसी मंगलवार या शनिवार को हनुमानजी की प्रतिमा के मस्तक पर लगे सिंदूर से एक मोरपंख पर परेशान करने वाले दुश्मन का नाम लिखें तथा घर के मंदिर में रात भर रखें. सुबह उठकर बिना नहाए-धोए तथा बिना किसी से बात किए बहते पानी में उस मोरपंख को बहा दें. ऐसा करने से आपके जीवन से वो दुश्मन आपका दोस्त बन जाएगा.

शादी में आ रही रुकावट होगी दूर, बृहस्पतिवार के दिन करें इस भगवान की पूजा

2. बच्‍चों में आएंगे सकारात्‍मक बदलाव
बच्चे थोड़े बहुत तो ज़िद्दी होते ही हैं लेकिन अगर आपका बच्चा बहुत ज्यादा जिद्दी हो गया है और किसी की कोई बात नहीं मानता तो आप घर में मोरपंख ले आइये. इस मोरपंख से पंखा बनाकर बच्चे को हवा करें या सीलिंग पर उसे चिपका दें. इसकी हवा से बच्चे में सकारात्मक बदलाव आएंगे.

विवाह मुहूर्त 2019: इस साल है शादियों का बंपर मुहूर्त, यहां से देखें वो शुभ दिन

3. नवजात को नहीं लगेगी किसी की बुरी नजर
नवजात शिशु को नजर बहुत जल्दी लग जाती है. अगर आप उसे नजर से बचाना चाहते हैं तो एक चांदी के ताबीज़ में मोर पंख भरकर बच्चे के सिरहाने रखें. ऐसा करने से उसे न नजर लगेगी न ही वो डरेगा.

Pradosh Vrat 2019: देखें प्रदोष व्रत का पूरा कैलेंडर, जानें किस दिन की पूजा से होगी मनचाही संतान

4. धन-धान्‍य से संपन्‍न होगा घर
मोरपंख अटके हुए काम को पूरा करने में भी मदद कर सकता है. साथ ही ये आपके धन और वैभव में भी बढ़ोतरी करता है. इसके लिए पर एक मोरपंख को राधाकृष्ण मंदिर में स्थापित करें. हर रोज़ 40 दिन तक उसकी पूजा करें. उसके बाद उसे अपने लॉकर या जहां कीमती सामान रहते हों वहां रख दें. इससे आपकी संपत्ति बढ़नी शुरु हो जाएगी. आपके अटके काम भी पूरे होंगे.

Ekadashi 2019: देखें एकादशी कैलेंडर, किस महीने किस तारीख को रखा जाएगा कौन सा व्रत…

5. कालसर्पयोग दोष में भी मददगार
कुंडली में कालसर्पयोग दोष अशुभ माना जाता है. इसे दूर करने के लिए अपने तकिये के गिलाफ या कवर में 7 मोर डालें. ऐसा सोमवार की रात को करें और उस तकिये पर सिर रखकर सो जाइये. आपके सोने वाले कमरे की पश्चिम दिशा वाली दीवार पर 11 मोरपंख लगाने चाहिए. इससे कुंडली में राहू-केतू का अशुभ प्रभाव कम हो जाएगा और आप कालसप्रयोग दोष से मुक्ति पा लेंगे. ये सब इसलिए होता है क्योंकि मोर सर्प का दुश्मन है.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.