अहमदाबाद. गुजरात विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के दो दिन बाद कांग्रेस में आत्ममंथन का दौर शुरू हो चुका है. पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी चुनाव नतीजे के विश्लेषण के लिए आयोजित तीन दिवसीय चिंतन शिविर में शनिवार को शामिल होंगे. पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने बताया है कि चिंतन शिविर में कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता जिलावार चुनाव परिणामों का विश्लेषण करेंगे एवं 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आगे की रणनीति तैयार करेंगे. 

‘He is old, should quit politics’: 3 musketeers Alpesh, Jignesh, Hardik take on PM Modi | जिग्नेश ने कहा- ‘बोरिंग हो गए हैं PM, हिमालय जाकर हड्डियां गलाएं’

‘He is old, should quit politics’: 3 musketeers Alpesh, Jignesh, Hardik take on PM Modi | जिग्नेश ने कहा- ‘बोरिंग हो गए हैं PM, हिमालय जाकर हड्डियां गलाएं’

सोमवार को घोषित चुनाव परिणामों में कांग्रेस सत्ता प्राप्त करने के लिए जरूरी आंकड़े तक नहीं पहुंच सकी, लेकिन पार्टी ने पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले 16 सीट अधिक हासिल की. बीजेपी लगातार छठीं बार चुनाव जीतने में कामयाब रही लेकिन पार्टी विधायकों की संख्या 2012 के 115 के तुलना में घटकर 99 रह गई. कांग्रेस गुजरात के ग्रामीण इलाकों में अच्छा प्रदर्शन करने में सफल रही लेकिन शहरों में उसका खास प्रभाव नहीं दिखा.

सोलंकी ने कहा कि पहले दो दिन चिंतन शिविर का आयोजन मेहसाणा जिले के एक रिजॉर्ट में किया जा रहा और शिविर के अंतिम दिन इसका आयोजन अहमदाबाद में होगा जहां गांधी भी इसमें शामिल होंगे. राज्य में धुआंधार प्रचार अभियान चलाने वाले गांधी ‘चिंतन शिविर’ के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे.