गाजियाबाद. हिंडन वायुसेना अड्डे की दीवार फांदने की कोशिश कर रहे एक व्यक्ति को सुरक्षाकर्मियों ने गोली मार दी जिसमें वह मामूली रूप से घायल हो गया. पुलिस ने बताया कि उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के सुजीत (25) ने कल रात करीब 11 बजे वायुसेना अड्डे में घुसने की कोशिश की. लेकिन इस शख्स की गिरफ्तारी से रॉ के एक अलर्ट की जानकारी मिली है जो उसने वायुसेना को जारी किया था.

‘Deadly combination’: BrahMos missile to be tested from Sukhoi fighter jet for first time this week | डेडली कॉम्बिनेशनः पहली बार सुखोई जेट से लक्ष्य भेदेगी ब्रह्मोस

‘Deadly combination’: BrahMos missile to be tested from Sukhoi fighter jet for first time this week | डेडली कॉम्बिनेशनः पहली बार सुखोई जेट से लक्ष्य भेदेगी ब्रह्मोस

Also Read - IAF Day 2020: वायुसेना दिवस पर जश्न में डूबा हिंडन एयरबेस, परेड के बाद अब होगी फ्लाइ पास्ट की शुरुआत

रॉ के अलर्ट से हलचल Also Read - अमेरिका में अवैध रूप से प्रवेश करने की कोशिश के दौरान 15 पंजाबी युवक लापता

भारत की खुफिया एजेंसी रॉ के अलर्ट ने हिंडन एयरबेस पर हलचल तेज कर दी है. आईबी ने यहां लश्कर के हमले को लेकर अलर्ट जारी किया था. इसके बाद अंदर के लोगों को बाहर जाने की इजाजत नहीं दी जा रही थी और न ही बाहर का कोई अपरिचित बिना पहचान सुनिश्चित किए अंदर जा सकता था. यहां तक की मजदूरों को भी बाहर कर दिया गया था. Also Read - जीजा को मारने के लिए यूपी से मुंबई पहुंचा साला, हुआ कुछ ऐसा कि खुद को मार ली गोली

एक हिंदी टीवी चैनल के संवाददाता ने बताया कि अंदर दो केंद्रीय विद्यालय हैं जिन्हें बंद कर दिया गया था और सुरक्षा पूरी तरह चाक चौबंद है.

पैर में मारी गोली

साहिबाबाद पुलिस थाने के प्रभारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि सुरक्षा बलों से उसे रुकने के लिए कहा लेकिन वह नहीं माना जिस पर उसे रोकने के लिए उसके बांए पैर पर गोली मारी गई. एक अधिकारी ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि आईबी की ओर से वायुसेना अड्डे पर आतंकवादी हमले की आशंका वाला अलर्ट मिला था. 

IAF asked to be ready for ‘wars’ with Pakistan and China | एयरफोर्स को निर्देश, पाकिस्तान और चीन से युद्ध के लिए रहें तैयार

IAF asked to be ready for ‘wars’ with Pakistan and China | एयरफोर्स को निर्देश, पाकिस्तान और चीन से युद्ध के लिए रहें तैयार

सूत्रों ने बताया कि इस बात की जांच की जा रही है कि कहीं व्यक्ति का संबंध आतंकवादी संगठन से तो नहीं है. घटना के बाद वायुसेना अड्डे पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. 2 जनवरी 2016 को पंजाब के पठानकोट में आतंकियों ने एयरफोर्स स्टेशन को अपना निशाना बनाया था. हमले में 4-6 आतंकी मारे गए थे जबकि एयरफोर्स स्टेशन की सुरक्षा में 7 जवान भी शहीद हो गए थे.

इसी हमले के बाद देश के सभी एयरबेस की सुरक्षा की समीक्षा की गई और न सिर्फ वहां की बाउंड्री वॉल ऊंची की गई बल्कि अवैध रूप से घुसने वालों को गोली मारने का आदेश भी जारी कर दिया गया.

बार बार बदल रहा बयान

सुरक्षाकर्मियों ने आरोपी सुजीत को पहले चेतावनी दी गई लेकिन इसके बावजूद वह नीचे नहीं उतरा. वह ऊपर चढ़ गया और नीचे उतरा जिसके बाद उसे गोली मारी गई. अस्पताल में मीडिया से बातचीत में सुजीत बार बार अपना बयान बदल रहा है. सुजीत ने पहले कहा कि वह प्लेन में बैठना चाहता था लेकिन बाद में उसने कहा कि उसके पास खाने के लिए कुछ नहीं था इसलिए चला गया था.

सुजीत ने मीडिया से कहा कि अब वहां नहीं जाउंगा. मोबाइल से फोटो लेने की बात भी सुजीत ने मानी. उसने कहा कि वह आनंद विहार से आ रहा था और पैदल ही जा रहा था. उसने कहा कि वह प्रतापगढ़ के रहने वाले हैं और दिल्ली में ही इधर-उधर रहता है. कुछ मांगकर खाता है.

सुजीत ने कहा कि वह मजदूरी करता है. हालांकि पुलिस उसके बयान की एक एक कड़ी की जांच में जुट गई है.