Gujarat, Surat, COVID-19, Fire, News: कोरोना संक्रमण (COVID-19) से जूझ रहे गुजरात ( Gujarat) के सूरत (Surat) में रविवार को एक प्रावइेट अस्‍पताल में (fire) आग लगने से कई कोविड मरीज (COVID patients) घायल हो गए थे. इन घायल मरीजों में से आज सोमवार को चार ने दम तोड़ दिया है. सूरत के आयुष अस्पताल (Ayush Hospital ) में कल रविवार को रात 11 बजकर 40 मिनट पर आग लग गई थी, जिसके बाद आईसीयू में भर्ती कोविड-19 के 16 अत्यंत गंभीर मरीजों को बाहर निकाला गया और सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया था.Also Read - 8 सालों में ऐसा कुछ नहीं होने दिया जिससे देश का सिर झुका हो, राजकोट रैली में बोले PM मोदी

सूरत नगरपालिका आयोग (Surat Municipal Corporation) (एएमसी) के मेडिकल ऑफिसर ने कहा, कल रात को आयुष अस्‍पताल में आग लग गई थी. वहां इलाज के लिए भती मरीजों को दूसरे अस्‍पतालों में भर्ती किया गया था, उनमें से 4 की मौत हो गई है. Also Read - दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भीषण आग, फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया

Also Read - ग्वालियर में तेज रफ्तार एसयूवी ने रोड किनारे खड़े लोगों को कुचला, एक ही परिवार के 4 सदस्यों समेत 5 की मौत

सूरत जिले के एक प्राइवेट आयूष अस्पताल बहुमंजिला इमारत के पांचवे तल पर गहन देखभाल कक्ष (आईसीयू) में रविवार की रात को 11 बजकर 40 मिनट पर आग लग गई थी, जिसके बाद आईसीयू में भर्ती 16 मरीजों को बाहर निकालकर सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया. सूरत नगरपालिका आयोग (एएमसी) के प्रभारी मुख्य अग्निशमन अधिकारी बसंत पारीक ने कहा, ”आग लगने के वक्त इमारत के पांचवे तल पर स्थित अस्पताल के आईसीयू में 16 मरीज थे. दमकल विभाग की टीम ने 11 मरीजों को बाहर निकाला और शेष पांच को अस्पताल के स्टाफ ने टीम के पहुंचने से पहले ही सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया था.”

सूरत नगरपालिका आयोग (एएमसी) के प्रभारी मुख्य अग्निशमन अधिकारी ने कल कहा था कि आग वातानुकूलन (एसी) शॉर्ट सर्किट होने या ओवरलोड की वजह से वातानुकूलन (एसी) के फट जाने के बाद लगी. पारीक ने बताया कि अग्निशमन दल द्वारा बाहर निकाले गए 11 मरीजों में से पांच को नगर निगम के एसएमआईएमईआर अस्पताल ले जाया गया, चार को संजीवनी अस्पताल और शेष दो को आयूष अस्पताल की दूसरी मंजिलों पर ले जाया गया. उन्होंने कहा कि अस्पताल के जिन बाकी पांच मरीजों को कर्मचारियों ने बचाया था, उन्हें कहां रखा गया है इसका पता लगाने की कोशिश की जा रही है. पारीक ने बताया की आग की सूचना मिलने पर दमकल की करीब 15 गाड़ियों को मौके पर भेजा गया और दो गाड़ियों की मदद से आधे घंटे में ही आग पर काबू पा लिया गया.