Gujarat Lockdown Update: भारत में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है. देश में बीते 6 दिनों से रोजाना 3 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. गुजरात (Gujarat Lockdown News) भी कोरोना से बेहाल है. हर दिन कोरोना रिकॉर्ड तोड़ रहा है. कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच गुजरात के वडोदरा के 2 BJP विधायकों ने लॉकडाउन की मांग की. विधायक केतन इनामदार और शैलेश मेहता ने ग्रामीण क्षेत्रों में अस्पतालों में चिकित्सा ऑक्सीजन की आपूर्ति सहित कई मुद्दों पर चर्चा के लिए वडोदरा में एक बैठक की थी.Also Read - Monkeypox Disease: यौन संबंध बनाने से भी फैल सकता है 'मंकीपॉक्स' वायरस, विशेषज्ञों ने चेताया

इनामदार ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को पत्र लिखकर मांग की कि स्थिति और गंभीर हो सकती है, खासकर इस वजह से कि पिछले साल की तुलना में इस बार विवाह समारोह बड़ी संख्या में आयोजित किए जा रहे हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री से लॉकडाउन (Gujarat Lockdown) लगाने की अपील की है. Also Read - युवा शिविर में बोले पीएम मोदी, भारत आज दुनिया की नई उम्मीद बनकर उभरा है

उधर, कोरोना के तेजी से बढ़ते मामले को देखते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) की प्रदेश इकाई ने लॉकडाउन (Lockdown) का सुझाव दिया है. IMA की प्रदेश इकाई ने गुजरात हाईकोर्ट में सुझाव दिया कि राज्य सरकार को कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए कम से कम दो सप्ताह का लॉकडाउन (Lockdown In Gujarat) लगाना चाहिए. IMA के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र पटेल ने हाल ही में हाईकोर्ट में कहा कि अगर राज्य सरकार लॉकडाउन के पक्ष में नहीं है तो उसे लोगों को उनके घरों तक सीमित कर देने के लिए गतिविधियों पर पाबंदी लगाने पर सोचना चाहिए. Also Read - दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के करीब 400 नए केस, दो लोगों की गई जान

पटेल ने इस दौरान कहा कि सरकार को सभी तरह के जमावड़े, चाहे वह सामाजिक हो या राजनीतिक या धार्मिक, पर पूर्ण रोक लगा देना चाहिए. यदि संभव हो तो सरकार को 14 दिनों का पूर्ण लॉकडाउन लगाना चाहिए. अगर ऐसा संभव नहीं हो तो उसे गतिविधियों पर गंभीर पाबंदिया लगानी चाहिए.’ मामले पर आज सुनवाई होनी है.

उधर, हाल ही में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा था कि राज्य में फिलहाल लॉकडाउन लगाने की जरूरत नहीं है. रूपाणी ने हालांकि लॉकडाउन के संकेत जरूर दिये. उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर हम लॉकडाउन लगाने के बारे में विचार करेंगे. राज्य के 20 शहरों में रात का कर्फ्यू है. उन्होंने कहा, ‘हमने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं. हमने स्कूल ,कॉलेज, मॉल, सिनेमाघर बंद किए हैं और प्रमुख शहरों में बस सेवा भी बंद की है. मैं लोगों से स्थिति में सुधार आए बिना घरों से नहीं निकलने की अपील करूंगा.’

(इनपुट: एजेंसी)