Gujarat Municipal Election Results 2021: गुजरात के स्थानीय निकाय चुनाव में भाजपा ने शानदार प्रदर्शन किया है. सभी छह महानगर पालिका में हुए नगर निकाय के चुनाव में 576 सीटों में से भाजपा ने 480 सीटों पर हासिल की है. कांग्रेस को जहां 50 सीटें मिली हैं वहीं आप ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए कुल 27 सीटें जीत ली हैं. उसने सूरत में सबसे ज्यादा सीटें जीती हैं. यहां तो कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल सकी है.Also Read - UP Election: टिकट के लिए पति-पत्नी, बाप-बेटी तो कहीं भाई-भाई में टकराव, अमेठी राजघराने की दो रानियों में जंग

गुजरात की अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर तथा भावनगर महानगर पालिका के चुनाव में भाजपा ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी तथा प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल के नेतृत्व में शानदार जीत दर्ज की है. गुजरात में पहली बार आम आदमी पार्टी का इतना बेहतर प्रदर्शन रहा है. तो वहीं गुजरात के नगर निकाय चुनाव में हार के साथ ही कांग्रेस में कोहराम मचा है. Also Read - Uttarakhand Assembly Election 2022: कांग्रेस ने उत्तराखंड के लिए 53 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की, हरिश रावत का नाम नहीं शामिल

चुनाव रिजल्ट के बाद छह शहरों के कांग्रेस अध्यक्षों ने पार्टी आलाकमान को अपना-अपना इस्तीफा सौंप दिया हैं. रूपाणी और पाटिल की जोड़ी की यह दूसरी बड़ी जीत मानी जा रही है. इससे पहले विधानसभा की आठ सीटों पर हुए उप चुनाव में भाजपा सभी सीटें जीतने में कामयाब रही थी. Also Read - UP Election 2022: इन 47 सीटों पर नज़र लगाए हैं प्रमुख राजनीतिक दल, सिर्फ इतने वोटों से हुई थी हार-जीत

वहीं असदुद्दीन की पार्टी एआइएमआइएम ने अहमदाबाद में तीन सीटों से खाता खोला है. इसे मुस्लिम बहुल जुहापुरा तथा मकतपुरा में सफलता मिली है. अहमदाबाद मनपा की 192 सीटों में से भाजपा 165 तक पहुंच गई, जबकि कांग्रेस महज 15 सीट पर ही सिमट गई. राजकोट, वडोदरा, भावनगर में कांग्रेस दहाई का आंकड़ा नहीं छू सकी, जबकि जामनगर में 11 सीट पर ही जीत मिली.

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नगर निगम चुनाव परिणाम बताते हैं कि गुजरात ने फिर से खुद को भाजपा के गढ़ के रूप में स्थापित किया है और मोदी जी के नेतृत्व में शुरू की गई ‘विकास यात्रा’ को बीजेपी जारी रखे हुए है. उन्होंने कहा कि ये नतीजे गुजरात में सबसे अच्छे परिणामों में से एक हैं.