Gujarat: News Covid Guidelines : बड़े शहरों में नाइट कर्फ्यू समेत कई नए प्रतिबंध लागू, पढ़े डिटेल

गुजरात के 8 बड़े शहरों में नाइट कर्फ्यू का समय रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा, दुकानें, स्पा, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, होटल और रेस्तरां (75% क्षमता वाले) रात 10 बजे तक काम करेंगे. सरकारी और निजी एसी गैर बसों में 75% क्षमता के यात्र‍ियों की स्वीकृति होगी

Published: January 7, 2022 9:50 PM IST

By Laxmi Narayan Tiwari

Maharashtra, restrictions, Omicron, corona, covid, LOCKDOWN, hotels, restaurants, cinema halls, auditorium, Schools, colleges, coaching institutes, Swimming pools, gyms, spas, beauty salons, zoos, museums, entertainment parks,
(फाइल फोटो)

Gujarat News Update: गुजरात में कोरोना वायरस और इसके वेरियंट ओमीक्रोन के बढ़ते मामलों को लेकर राज्‍य सरकार ने 8 बड़े शहरों में नाइट कर्फ्यू समेत विभन्‍न प्रतिबंधों की घोषणा की है. इसमें अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, गांधीनगर, जूनागढ़, जामनगर, भावनगर, आणंद, नडियाद में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. वहीं, सामाजिक कार्यक्रम, शादियों में खुले में अधिकतम 400 लोगों के शामिल होने और बंद स्थानों में 50% क्षमता के साथ लोगों के शामिल होने की अनुमति होगी.

Also Read:

गुजरात CMO ने कहा, दुकानें, स्पा, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, होटल और रेस्तरां (75% क्षमता वाले) रात 10 बजे तक काम करेंगे. सरकारी और निजी एसी गैर बसों में 75% क्षमता स्वीकृति होगी. सिनेमा हॉल, जिम, स्विमिंग पूल, लाइब्रेरी आदि में 50 फीसदी की क्षमता के साथ यात्र‍ियों की अनुमति है. शैक्षणिक संस्थान 31 जनवरी तक बंद रहेंगे.

गुजरात के मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की स्थिति से निपटने की तैयारियों की समीक्षा के लिए बैठक की

अहमदाबाद में गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने कोविड-19 के मामलों में अचानक वृद्धि के मद्देनजर स्थिति से निपटने में प्रशासन की तैयारियों की समीक्षा के लिए शुक्रवार को एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की. एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट और गांधीनगर शहरों के नगर निगम आयुक्तों के साथ आणंद, भरूच, नवसारी, वलसाड और कच्छ के जिलाधिकारी और जिला विकास अधिकारियों ने वीडियो-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बैठक में भाग लिया. विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव के. कैलाशनाथन, मुख्य सचिव पंकज कुमार और एसीएस-स्वास्थ्य मुकेश कुमार ने प्रत्यक्ष रूप से बैठक में भाग लिया.

10 जनवरी से शहरों और जिलों में आयुर्वेदिक पाउडर मिक्स काढ़ा उपलब्ध कराने की योजना

विज्ञप्ति के अनुसार, नगर निगम आयुक्तों और जिलाधिकारियों ने टीकाकरण अभियान, मामलों का पता लगाने और उन पर नजर रखने, बिस्तरों और दवाओं की उपलब्धता तथा अपने-अपने जिलों में पृथक-वास में मौजूद रोगियों की स्थिति के बारे में नवीनतम विवरण और आंकड़ा साझा किया. बैठक के दौरान मुख्य सचिव ने पटेल को बताया कि स्थिति से बेहतर तरीके से निपटने और समन्वय के लिए राज्य सरकार ने पहले ही सभी प्रभारी सचिवों को अपने आवंटित जिलों में पहुंचने को कहा है. विज्ञप्ति में कहा गया है कि मुख्यमंत्री ने नगर और जिला प्रशासकों से गृह पृथक-वास में और अस्पतालों में भर्ती संक्रमित रोगियों की लगातार निगरानी करने का आग्रह किया. लोगों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए राज्य सरकार की 10 जनवरी से शहरों और जिलों में आयुर्वेदिक पाउडर मिक्स (काढ़ा) उपलब्ध कराने की योजना है. (इनपुट: भाषा)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 7, 2022 9:50 PM IST