Benefits of Amla: आंवला का सेवन करने से कई तरह की बीमारियों से बचा जा सकता है. आयुर्वेद में इसे कई बीमारियों के लिए रामबाण भी कहा गया है. आंवले को विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत माना जाता है. इतना ही नहीं एक छोटे आंवले में दो मध्यम साइज के संतरे के बराबर विटामिन सी पाए जाते हैं. इसमें पॉलीफेनोल जैसे यौगिकों से भरपूर, लौह और जस्ता जैसे खनिज, कैरोटीन और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स जैसे विटामिन निश्चित रूप से कई बीमारियों को दूर रख सकते हैं. तो आइए इस अद्भुत फल के लाभ के बारे में विस्तार से जानते हैं…. Also Read - Winter Tips: आयुर्वेद में रामबाण बताई गई हैं ये देसी चीजें, सर्दियों में रोज खाएं...

इम्यूनिटी में करता है सुधार Also Read - सर्दी में रहना है फिट तो करें इन घरेलू चीजों का इस्तेमाल, होंगे चौंकाने वाले फायदे

विटामिन सी और पॉलीफेनोल्स से समृद्ध आंवला एंटीऑक्सिडेंट का एक बड़ा स्रोत है. अध्ययन के मुताबिक बताया गया है कि इसमें टैनिन की मात्रा अधिक पाई जाती है. इसका सेवन करने से शरीर पर मुक्त कणों से होने वाले नुकसान को कम करने में मदद करती है और इसलिए शरीर की बीमारी से लड़ने की क्षमता में सुधार करती है. Also Read - सर्दियों में खाएं ये 10 चीजें, बॉडी को मिलेगी जबरदस्त गर्मी

दिल को रखता है सुरक्षित

आंवला कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है, जिसकी वजह से हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है. फाइबर और आयरन से भरपूर यह एलडीएल (कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन) के ऑक्सीकरण को नियंत्रित करने में बहुत प्रभावी है. इस अद्भुत फल का एक और लाभ यह है कि यह आर्थ्रोस्क्लेरोसिस (धमनियों में पट्टिका का संचय) को रोकता है, जिससे आपको हृदय रोग से बचाता है.

डायबिटीज कंट्रोल करने में करता है मदद

शोध अध्ययन से पता चलता है कि पॉलीफेनोल से भरपूर इस फल में वास्तव में ऐसे गुण होते हैं जो शरीर को हाई ब्लड शुगर के ऑक्सीडेटिव गुणों से बचाव करता है. उच्च फ्रुक्टोज आहार के कारण इंसुलिन प्रतिरोध को रोकने में भी यही यौगिक प्रभावी होता है. इस वजह से आंवला डायबिटीज को रोकने में मददगार होता है.

बुढ़ापे को करता है कम

आंवला का अर्क विटामिन ए से भरपूर होता है. यह विटामिन कोलेजन उत्पादन में आवश्यक है. यह एक ऐसा यौगिक है जो त्वचा को जवान और मुलायम बनाए रखता है. आंवला जब खाली पेट खाया जाता है तो इसमें ऐसे गुण होते हैं जो कोलेजन के क्षरण को धीमा करता है.

यौन जीवन को बनाता है बेहतर 

एक अध्ययन में बताया गया है आंवले में पाए जाने वाले लौह तत्व शुक्राणु बढ़ाने में मददगार होते हैं. आयुर्वेदिक विशेषज्ञों का सुझाव है कि दिन में एक बार आंवला जूस पीने से पौरुष शक्ति के साथ-साथ यौन शक्ति में वृद्धि होती है.

कैंसर से करता है बचाव 

आंवला में एंटीऑक्सीडेंट गुणों की मात्रा भरपूर होती है,जो कैंसर जैसी घातक बीमारियों से बचाव करता है. यह कैंसर का रूप लेने वाली कोशिकाओं को भी प्रभावित करता है. इसके अलावा कैंसर के इलाज में आंवला अर्क का इस्तेमाल किया जाता है.

गैस्ट्रिक की समस्याएं को करता है दूर

आंवला में मौजूद फाइबर, पॉलीफेनोल पेट की समस्याओं से निजात दिलाता है. खाली पेट एक चम्मच आंवले का रस लेने से एसिडिटी और गैस्ट्रिक की समस्या दूर हो जाती है.