Covid-19 Medicine Remdesivir: कोरोना वायरस के मरीजों के लिए एक  राहत वाली खबर आई है. ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने कोरोना वायरस बीमारी के इलाज के लिए एक इंजेक्शन के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है. इस इंजेक्शन का नाम Remdesivir है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसके क्लिनिकल ट्रायल पर नजर रखी जा रही थी. कोरोना के इलाज में काफी कारगर साबित होने के बाद भारत में मरीजों पर इस इंजेक्शन के इस्तेमाल को मंजूरी दी गई है. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,008 नए मामले सामने आए, कुल संक्रमित संख्या 1,02,831 हुई; 3,165 की मौत

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया डॉ. वीजी सोमानी ने कहा कि कोरोना से संक्रमित वयस्कों और बच्चों में इस इंजेक्शन के इस्तेमाल को मंजूरी दी गई है. Also Read - कोरोना महामारी से मुकाबले के लिए ‘हर्ड इम्यूनिटी’ की संभावना पर संदेह, इस अध्ययन में आई ये बात सामने 

इस इंजेक्शन का निर्माण अमेरिकी कंपनी Gilead Sciences ने किया है. इसे अमेरिका से आयात किया जा रहा है. Also Read - लॉकडाउन के कारण रद्द हुईं उड़ानें, लोगों का पैसा अटका; अब न्यायालय ने केन्द्र और डीजीसीए को भेजा नोटिस

इस बीच ऐसी भी रिपोर्ट है कि संट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेश इस दवा का 10 दिनों के बजाय केवल 5 दिन तक इस्तेमाल करने को मंजूरी दे सकता है. इस बात के पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं कि 10 दिनों तक इस दवा के इस्तेमाल से नतीजे में बदलाव आएगा.

रिपोर्ट के मुताबिक केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा कि कंपनी अभी तक जो आंकड़े पेश किए हैं उसमें 10 दिनों तक इस दवा के इस्तेमाल का कोई अलग से असर का पता नहीं चला है. ऐसे में पांच दिन से अधिक दिन तक इस दवा के इस्तेमाल का कोई मतलब नहीं है.

उन्होंने यह भी कहा कि इस दवा का अब भारत में जेनरिक लाइसेंस के तहत निर्माण हो सकेगा. उन्होंने कहा कि केवल पांच दिनों तक ही इस दवा के इस्तेमाल से मरीजों का बहुत पैसा भी बचेगा.