चीन के पास कहने को दुनिया की बड़ी सेनाओं में से एक है लेकिन कुछ मामलों में वह देश बाकी देशों से पीछे है. एक सर्वे के मुताबिक एक-तिहाई लोगों के पास सुबह में रोज नाश्ते का वक्त नहीं होता है. चीन की न्यूट्रीशन सोसायटी की ओर करवाए गए सर्वे में करीब 11 फीसदी लोग ऐसे पाए गए, जो अक्सर ब्रेकफास्ट नहीं करते हैं.

चीन के 31 प्रांतों में 18 साल से ऊपर के लोगों में करीब एक फीसदी ने कहा कि उन्होंने कभी नाश्ता नहीं किया. रिपोर्ट के अनुसार, 49 फीसदी लोगों के नाश्ता नहीं करने की मुख्य वजह यह है कि उनके पास सुबह में समय सीमित होता है. वहीं 17 फीसदी लोगों ने बताया कि उन्हें सुबह में भूख ही नहीं लगती है और उन्हें नाश्ता करने की आदत नहीं है.

सर्वे के अनुसार, नौ फीसदी लोग नाश्ते को जरूरी नहीं समझते हैं. सर्वेक्षण में शामिल लोगों ने बताया कि नाश्ते में सोयाबीन, डेयरी प्रोडक्ट्स, फल और सब्जियों से ज्यादा प्रमुख रूप से अनाज और गांठ वाली सब्जियां होती हैं. करीब 81 फीसदी प्रतिभागियों ने बताया कि वे 15 मिनट में नाश्ता करते हैं, जबकि 42 फीसदी लोगों ने बताया कि वे नाश्ते के लिए 10 मिनट का समय देते हैं.

सर्वे में यह भी बताया गया कि अपर्याप्त ऊर्जा, आहार संबंधी रेशे या विटामिन लेने पर उसकी भरपाई दोपहर के भोजन या रात के भोजन से नहीं की जा सकती है.