Corona Virus: स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि घातक कोरोना वायरस के मद्देनजर सात अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों (दिल्‍ली, कोलकाता, मुम्‍बई, कोच्चि, बेंगलुरू, हैदराबाद तथा चेन्‍नई) में चीन, सिंगापुर, थाईलैंड तथा हांगकांग से आने वाले यात्रियों की ‘स्‍क्रीनिंग’ के लिए समर्पित द्वारों पर निर्धारित एयरो ब्रिज का इस्‍तेमाल किया जाएगा ताकि प्रभावी रूप से रोकथाम सुनिश्चित किया जा सके.

स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण सचिव प्रीति सूदन ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के माध्‍यम से राज्‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य सचिवों के साथ कोरोना वायरस की रोकथाम और प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा की. भारत में कोरोना वायरस के तीन मामले केरल से आए हैं. स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण सचिव ने बताया कि सभी 21 हवाई अड्डों, अंतरराष्ट्रीय बंदरगाहों तथा सीमा क्रॉसिंग पर यात्रियों की स्‍क्रीनिंग की जा रही है. उन्होंने बताया कि अभी तक 81 हवाई अड्डों पर 777 विमानों तथा 89,500 यात्रियों की स्‍क्रीनिंग की गई है.

सूदन ने बताया कि 454 नमूनों की जांच की गई है जिसमें 451 नमूने नकारात्मक पाए गए हैं. तीन नमूने सकारात्मक पाए गए हैं. इसके अलावा 3935 यात्री 29 राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों में सामुदायिक निगरानी में हैं. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई बैठक में राज्‍यों, केन्‍द्र शासित प्रदेशों के स्‍वास्‍थ्‍य सचिवों और शिपिंग, विदेश, नागर विमानन, पर्यटन तथा गृह मंत्रालय के वरिष्‍ठ अधिकारियों ने शिरकत की.

स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण सचिव ने बताया कि केन्‍द्रीय स्‍तर पर संबंधित मंत्रालयों के सहयोग से एहतियात के अनेक कदम उठाए गए हैं. उन्‍होंने बताया कि रोजाना स्थिति की निगरानी प्रधानमंत्री कार्यालय, केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री तथा कैबिनेट सचिव द्वारा की जा रही है. उन्होंने कहा कि ताजा स्थिति, तैयारी की स्थिति और उठाए गए कदमों की जानकारी से संबंधित निगरानी की जा रही है. उन्‍होंने पूरे विश्‍व में कोरोना वायरस के फैलने के मद्देनजर नए वीजा प्रतिबंधों, परामर्शों को दोहराया. उन्‍होंने इस बारे में राज्‍यों से जागरूकता अभियान चलाने को कहा.