Coronavirus In Young People: कोरोनावायरस से जुड़ी अब तक जितनी भी खबरें आई हैं उसमें कहा जा रहा है कि ये वायरस कम इम्युनिटी वाले लोगों को अपना शिकार बनाता है. पर अब जो खबर हम आपको बताने जा रहे हैं उसे जानकर आपकी चिंता बढ़ जाएगी. Also Read - कोरोनावायरस: बायो सूट के बाद अब DRDO ने विकसित की सैनेटाइज करने की नई तकनीक

भारत की तरह अमेरिका में भी कोरोनावायरस के मरीज बढ़ रहे हैं. अमेरिका के न्यूयॉर्क में जिन लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है, उनमें 40 प्रतिशत से अधिक के वे लोग हैं, जिनकी उम्र 18 से 44 के बीच में है. यानी ये लोग बुजुर्ग नही हैं. ऐसे में ये बात साफ हो जाती है कि ये वायरस केवल शिकार ढूंढ़ता है, उम्र से इसका कोई खास कनेक्शन नहीं है. Also Read - COVID-19: कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में आगे आया IOA, जुटाए 71 लाख रुपये

इस बारे में विश्व स्वस्थ्य संगठन यानी WHO पहले ही एडवाइजरी जारी कर चुका है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम गेब्रेयसस ने युवाओं को कोरोनावायरस को हल्के में ना लेने की हिदायत दी थी. Also Read - ओडिशा में कोविड-19 के 15 नए मामले, राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20 हुई

 

उन्होंने कहा था, ‘कोविड 19 से युवाओं को खतरा नहीं है, यह सोच गलत है. कोरोनो वायरस से युवाओं को भी उतना ही नुकसान पहुंच सकता है और ये उनके लिए भी बहुत खतरनाक साबित हो सकता है’.

Coronavirus cases in india

 

कोरोनावायरस अब हमारे देश में लोगों की परेशानी का सबब बन गया है. सरकार हर संभव प्रयास कर रही है कि इसे फैलने से रोक सके. इस बीच लोगों को कई तरह के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं. कई राज्यों में कर्फ्यू तक लगा दिया गया है.