वॉशिंगटन: वैज्ञानिकों का कहना है कि तलाक के बाद लोगों के धूम्रपान करने या शारीरिक गतिविधियों में पर्याप्त हिस्सा नहीं लेने की आशंका बढ़ जाती है. और ये दोनों ही गतिविधियां समय पूर्व मौत की कारक होती हैं. Also Read - बिहार के जूनियर डॉक्टर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, इन मांगों पर अड़े, स्वास्थ्य सेवायें प्रभावित

शोधार्थियों ने तलाक को खराब स्वास्थ्य की कई वजहों से जोड़ा है. इसमें समय से पहले मौत का ज्यादा जोखिम भी शामिल है. हालांकि तलाक और मौत के बीच संबंध का कारण वे बहुत अच्छी तरह से नहीं समझा सके हैं. Also Read - लड़की से बनाए संबंध, प्रेग्नेंट हुई तो दहेज़ देकर कराई शादी, दूल्हे को प्रेग्नेंसी का चला पता, अब...

divorce Also Read - लाल मिर्च, धनिया पाउडर, गरम मसाला... ये सब गधे की लीद से बनाकर बेचते थे, कहीं आपने भी तो नहीं खा लिए!

अमेरिका के एरीजोना विश्वविद्यालय के एक अध्ययन में ये बात कही गई. रिपोर्ट में बताया गया कि तलाक के बाद धूम्रपान की ज्यादा आशंका होती है. साथ ही कई लोग शारीरिक गतिविधियों में काफी कम लिप्‍त होते हैं.

विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान के शोधार्थी और जर्नल एनल्स ऑफ बिहेवियोरल मेडिसिन में प्रकाशित अध्ययन के प्रमुख लेखक कैली बौरासा ने कहा, ‘हम वैवाहिक स्थिति और असमय मृत्यदर के आपस में जुड़े होने के साक्ष्यों के अंतर को पाटना चाहते हैं. इसी कोशिश में हमने ये अध्‍ययन किया. हम जानते हैं कि वैवाहिक स्थिति मनोवैज्ञानिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों से जुड़ी है, और तलाक से स्वास्थ्य के जोखिमों का एक रास्ता धूम्रपान और व्यायाम जैसे स्वास्थ्य व्यवहारों से भी जुड़ा है.’

couple taking a break

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य अक्सर मनोवैज्ञानिक कारकों जैसे जीवन संतुष्टि से जुड़ा है. अगर रिश्‍तों में कड़वाहट या दूरी आती है तो इसका सीधा असर स्‍वास्‍थ्‍य पर होता है.
(एजेंसी से इनपुट)