नई दिल्ली: ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया ने मंगलवार को रेनिटिडिन (Ranitidine)  पर सार्वजनिक स्वास्थ्य चेतावनी जारी की है और कहा है कि इसमें ऐसे रसायन पाए जाते हैं, जिससे कैंसर हो सकता है. रेनिटिडिन एक सस्ते दाम में मिलनेवाला बहुत पुरानी दवा है, जिसका इस्तेमाल पेट की एसिडिटि को कम करने के लिए किया जाता है. कई अन्य देशों के ड्रग रेगुलेटर ने भी इसमें हानिकारक रसायन पाए और इसे अपने यहां प्रतिबंधित किया है.

स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय के अधीन ड्रग्स कंट्रोलर, वी. जी. सोमानी ने सभी राज्यों को निर्देश जारी कर रेनिटिडिन को लेकर चेतावनी जारी की है और कहा कि वे मरीजों की सुरक्षा के लिए सभी ड्रग निर्माताओं से कदम उठाने को कहें. रेनिटिडिन दवा का उपयोग देश में कई लक्षणों के इलाज में किया जाता है और यह अलग-अलग फोर्मूलेशन में टैबलेट और इंजेक्शन के रूप में उपलब्ध है.

यह शेड्युल-एच के तहत प्रिसक्रिप्शन ड्रग है, यानी इसे दवाई की दुकान से खरीदने के लिए डाक्टर की पर्ची की जरूरत होती है. इस दवाई में कैंसर के कारकों का पता सबसे पहले अमेरिका की एफडीए ने लगाया था और इस संबंध में अलर्ट जारी किया था. भारत में इस दवाई का उत्पादन करने वाली कंपनियों को तुरंत प्रभाव से इस दवा का उत्पादन रोकने के लिए कहा गया है. ड्रग कंट्रोलर के निर्देशों के तहत डाक्टरों को यह सलाह जारी की गई है कि वे इस दवाई को मरीजों को लेने की सलाह ना दें.

(इनपुट IANS से)