लंदन: नमी बरकरार रखने से सर्दी के मौसम में आंखों को सूखने से बचाया जा सकता है. एक नेत्र विशेषज्ञ ने यह जानकारी दी. कम नमी के कारण सर्दियों में आंखों में सूखापन, खुजली आम समस्या है. बर्मिघम में अलबामा विश्वविद्यालय में नेत्र विज्ञान विभाग की एक प्रशिक्षक मारिसा लोकी के हवाले से हेल्थ डे की रिपोर्ट में कहा गया है कि औसतन, ठंड के मौसम में नमी कम हो जाती है.

सर्दियों में तेजी से फैलती है ये बीमारी, भूलकर भी न करें नजरअंदाज

उन्होंने कहा कि इसके अलावा, अधिकांश लोग ठंड से बचने के लिए अपने घरों या कार्यालयों में हीटर चलाते हैं. ऐसे में इस मौसम में हवा में नमी का स्तर वैसे ही कम होता है, जो हीटर चलाने से और कम हो जाता है, जिससे आंखों की नमी और उड़ जाती है. इस अध्ययन में नमी बनाए रखने के तरीकों के बारे में जानकारी हासिल की गई, ताकि सर्दियों के मौसम में कम नमी के कारण आंखों में सूखापन का सामना ना करना पड़े.

Tips: चिढ़े-चिढ़े रहते हैं, कहीं सेहत तो खराब नहीं? क्‍यों चेकअप कराना है जरूरी?

चेहरे पर सीधे ना पड़ने दें हीटर की गर्मी
लोकी ने कहा कि यदि आप गर्म स्थानों पर समय बिताते हैं, तो हवा में कुछ नमी वापस जोड़ने के लिए एक ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें. बहुत सारे तरल पदार्थ पिएं. अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखने से आपकी आंखों में नमी बनाए रखने में मदद मिलेगी. अपने चेहरे पर सीधे हीटर की गर्मी ना पड़ने दें, क्योंकि इससे आपकी आंखों की नमी सूख सकती है.

Tips: दूध-बादाम-घी जितनी ताकत देती है 100 ग्राम मूंगफली, सर्दियों में क्‍यों खानी चाहिए?

ठंडी हवा से आंखों को बचाने के लिए लगाए चश्मा और टोपी
इसके अलावा, कार में, हीट वेंट्स को शरीर के निचले हिस्से की तरफ कर के चलाया जाना चाहिए. रिपोर्ट में कहा गया है कि धूल के कण या ठंडी हवाओं से आंखों को बचाने के लिए चश्मा और टोपी लगाना चाहिए.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.