नई दिल्ली: कई लोगों को आपने देखा होगा जो मोटे तो होते हैं लेकिन उनका शरीर काफी फिट होता है.रिसर्चर्स लंबे समय से इसे लेकर शोध कर रहे हैं, हाल ही में एक नई स्टडी के जरिए यह पता लगा है कि कई लोग मोटे होने के बावजूद भी फिट कैसे रहते हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स के रिसर्चर्स ने बताया कि, कई लोग ओवरवेट होने के बावजूद भी काफी फिट होते हैं. ऐसे लोगों का हेल्दी मेटाबॉलिज्म होता है जो उनके फैट सेल्स में खून की सप्लाई सही तरीके से करता है.

Increase Womens Sex Drive: लाइफ स्टाइल में बदलाव कर बढ़ाएं सेक्स ड्राइव

इस स्टडी का नेतृत्व करने वाले डॉ. नताली हेवुड ने कहा, यह पूरी तरह से मिथक है कि लोग मोटे होने के बावजूद भी फिट रहते हैं, लेकिन इसमें थोड़ी बहुत सच्चाई हो सकती है. ऐसे लोग जिनके फैट सेल्स में ब्लड सप्लाई अच्छे से होता है उनका मेटाबॉलिज्म काफी हेल्दी होता है और वह हृदय संबंधी बीमारियों से भी बचे रहते हैं. शोध में रिसर्चर्स ने एक IGF1-R नाम के रिसेपटर की स्टडी कि जो रक्त वाहिकाओं की ग्रोथ में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. टीम ने चूहों की रक्त वाहिकाओं में इस रिसेप्टर को लगाया, जिसके बाद उन्हें अधिक वसा वाला खाना खिलाया गया. रिसर्चर्स ने पाया कि नई रक्त कोशिकाओं में फैट से मिलकर वृद्धि होती है. इसके साथ इससे यह भी पता चला कि इससे हृदय संबंधी रोगों से लड़ने में भी मदद करती हैं.

हलांकि अभी भी यह काफी अस्पष्ट है लेकिन रिसर्चर्स का कहना है कि हो सकता है फैट में मिकलर रक्त वाहिकाएं बायोएक्टिव कैमिकल रिलीज करती हैं जो फैट सेल्स को ब्राउन करने में मदद करती हैं. रिसर्चर्स के मुताबिक, ब्राउन फैट गर्मी पैदा करने के लिए कैलोरी बर्न करता है, यह ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है. रिसर्चर्स की यह टीम अब इस शोध की मदद से ऐसी दवाई बनाने की सोच रही है जिससे हृदय संबंधी रोगों से लड़ने में मदद मिल सके.