न्यूयॉर्क: अगर आप सोचते हैं कि धूम्रपान से सिर्फ फेफड़ों को नुकसान पहुंचता है तो आप गलत हैं, क्योंकि एक नए शोध में सामने आया है कि सिगरेट के धुएं में पाए जाने वाले घटकों से पैरों की मांसपेशियों को नुकसान पहुंचता है.Also Read - Best Quit-Smoking Tips: नहीं छूट रही है पार्टनर की स्मोकिंग की लत? तो एक बार ट्राई करके देखें ये तरीके, जरूर मिलेगा फायदा

smoking Also Read - World No Tobacco Day: केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा, भारत में तंबाकू और स्‍मोकिंग से 3,500 मौतें हर दिन

शोधकर्ताओं के अनुसार, धूम्रपान पैर की मासपेशियों से रक्त शिराएं कम करके इन्हें सीधे तौर पर नुकसान पहुंचा सकता है. रक्त शिराएं कम होने से मांसपेशियों तक ऑक्सीजन तथा अन्य पोषक तत्व पर्याप्त मात्रा में नहीं पहुंच पाते. Also Read - अब इस आयु से कम उम्र वाले नहीं कर पाएंगे धूम्रपान न ही तंबाकू उत्पादों का सेवन, केंद्र सरकार जल्द जा रही है विधेयक

अमेरिका के केलिफोर्निया-सैन डियागो विश्वविद्यालय में शोध के प्रमुख लेखक एलन ब्रीन ने कहा, ‘सिगरेट के तंबाकू से पूरे शरीर को नुकसान पहुंचता है. सिगरेट के धुएं के हानिकारक घटकों के कारण दैनिक जीवन में उपयोगी कई मांसपेशियों के समूहों को भी नुकसान पहुंचता है’.

ek_quit-smoking

‘द जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी’ में प्रकाशित निष्कर्षों का भी यही सार बताया गया है कि रक्त धमनियों के घटने से घटी ऑक्सीजन और अन्य पोषक तत्वों की संख्या से चयापचय और सक्रियता पर असर पड़ता है।
(एजेंसी से इनपुट)