नई दिल्ली: जब एक तरफ दुनिया भर में तंबाकू के सेवन से लोगों की मौत हो रही है. ऐसे में श्रीलंका सरकार ने स्वागतयोग्य कदम उठाया है और अपने देश में 100 से ज्यादा शहरों में सिगरेट की बिक्री को बंद कर दिया है. श्रीलंका के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि श्रीलंका के 100 से ज्यादा शहरों में देश को तंबाकू मुक्त बनाने के मकसद से सिगरेट की बिक्री का बहिष्कार किया गया है.

मंत्रालय के अनुसार, पब्लिक हेल्थ इंस्पेक्टर्स यूनियन ने देश भर में धूम्रपान के दुष्प्रभावों के बारे में स्थानीय लोगों को शिक्षित करने के कई कार्यक्रम शुरू किए हैं और इसके परिणामस्वरूप कई शहरों के दुकानदारों व व्यापारियों ने सिगरेट बेचना बंद कर दिया है.

OMG!! ये खतरनाक अंजाम जानने के बाद आप रातों रात छोड़ देंगे स्मोकिंग..

जाफना के 22 शहर, मतारा के 17 शहर, कुरुनेगला के 16 शहरों के साथ दूसरे शहर भी सिगरेट की बिक्री के बहिष्कार में शामिल हुए हैं. मौजूदा समय में 107 शहर इस मुहिम का हिस्सा हैं. स्वास्थ्य मंत्री राजिता सेनारत्ने ने आंकड़ों पर संतुष्टि जाहिर करते हुए कहा कि उन्हें इस आंकड़े के 2019 में 200 तक बढ़ने की उम्मीद है.

श्रीलंका सरकार ने हाल के वर्षों में धूम्रपान व सिगरेट की बिक्री को हतोत्साहित करने के लिए कई कदम उठाए हैं. इन कदमों के तहत तंबाकू पर कर 90 फीसदी बढ़ाने, सिगरेट के पैक पर 80 फीसदी तक तस्वीर लगी चेतवानी वाला भाग बढ़ाने और स्कूलों के 100 मीटर के दायरे में सिगरेट की बिक्री पर रोक लगाने जैसे कदम शामिल हैं. श्रीलंका सरकार 2020 तक तंबाकू की खेती पर रोक लगाने पर विचार कर रही है.

(इनपुट: एजेंसी)