Coronavirus Alert: चीन से निकलकर कोरोनावायरस दुनिया के कई देशों में हाहाकार मचा रहा है. भारत में भी इसके कई केस पॉजिटिव पाए गए हैं. ऐसे में कोरोनावायरस को लेकर जागरुकता बनाए रखना बेहद आवश्‍यक है. Also Read - दिल्ली में कोरोना का नया रिकॉर्ड, 1 दिन में 1163 नए मामले सामने आए

लोग ये समझ नहीं पा रहे कि ये कैसे फैलता है. क्‍या जमीन से, संपर्क से, सांस से या सेक्‍स से भी फैल सकता है. आपके हर सवाल का जवाब हम आपको देते हैं. Also Read - वैज्ञानिकों ने किया खुलासा, बताया आखिर किस तरह से जानवर से मनुष्य में पहुंचता है कोरोना वायरस

अगर किसी संक्रमित व्‍यक्ति के पास से हम गुजरें तो क्‍या होगा?

  Also Read - KXIP के सह-मालिक नेस वाडिया का बड़ा बयान, विदेशी खिलाड़ियों के बिना नहीं हो सकता IPL

चार बातें मायने रखती हैं. आप संक्रमित व्‍यक्ति के कितने करीब या पास थे, कितने देर तक रहे, क्‍या उसकी छींक या थूक आप पर पड़ा, आपने कितनी बार अपने चेहरे को छुआ.

क्‍या करे जब आसपास कोई छींके?

 

मास्‍क पहनकर बचाव करें. किसी भी तरह से संक्रमित का सलाइवा, थूक की छींट आपके शरीर में प्रवेश नहीं करना चाहिए. आमतौर पर कोरोना का वायरस, संक्रमित व्‍यकित के कफ, छींक, हंसने, गाने, सांस लेने और बात करने के दौरान, मुंह या नाक के जरिए आपके शरीर में प्रवेश करता है.

कितना पास आकर बात करें?

 

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के मुताबिक, किसी बीमार व्‍यक्ति से तीन फीट की दूरी पर रहकर ही बात करें. बेहतर होगा कि आप 6 फीट दूरी रखें. ऐसा नहीं कर सकते तो कम से कम 3 फीट की दूरी अवश्‍य रखें.

कैसे जानेंगे कि कोई संक्रमित है?

 

चूंकि इसके ज्‍यादातर लक्षण सर्दी-जुकाम वाले हैं इसलिए ये पता लगाना कि कौन संक्रमित है बेहद कठिन है. कई बार तो संक्रमित व्‍यक्ति में ये लक्षण दिखते ही नहीं. इसलिए आसपास किसी को सर्दी-जुकाम, खराश, सांस लेने में तकलीफ हो तो उससे दूरी बनाए रखें.

क्‍या ये वायरस बस स्‍टैंड, टच स्‍क्रीन या अन्‍य सतही जगहों पर रह सकता है?

 

हां, ऐसा होता है. संक्रमित व्‍यक्ति जिन चीजों को छूता है ये वायरस वहां रह जाता है. फिर उन चीजों को छूने वाले व्‍यक्ति के शरीर में ये प्रवेश कर जाता है. एक स्‍टडी में कहा गया है कि ये वायरस मेटल, शीशे और प्‍लास्टिक पर दो घंटे से 9 दिन तक जीवित रह सकता है.

किसी तरह के साबुन से फर्क पड़ता है?

 

नहीं. इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

 

क्‍या हाथों को लगातार धोने से कुछ फायदा होगा?

 

नियमित अंतराल पर हाथों को धोते रहने से आप इस वायरस की चपेट में आने से बच सकते हैं. जब भी हाथ धोएं तो कम से कम 20 सेकेंड तक इन्‍हें साफ करें. हाथों को धोते हुए दोनों तरफ की सतह साफ करें. ऊंगलियों के बीच में, नाखूनों के नीचे की ओर साफ क

मेरा पड़ोसी छींक रहा है. क्‍या मुझे डरना चाहिए?

 

अब तक ऐसा कोई कोई साक्ष्‍य नहीं मिला है कि ये वायरस दीवारों या शीशे के जरिए प्रवेश करता है. खतरा भीड़भाड़ वाली जगहों से ज्‍यादा है. ये संभव है कि सीढि़यों की रेलिंग को अगर संक्रमित व्‍यक्ति ने छुआ है और उसे आप भी छूते हैं, तो इससे आपको संक्रमण हो सकता है.

सेक्‍स से ये फैलता है?

 

एक्‍सपर्ट कहते हैं कि चुंबन से ये फैलता है. हालांकि ये सेक्‍सुअली ट्रांसमिटड डिसीज नहीं है इसलिए सेक्‍स के जरिए ये शरीर में प्रवेश नहीं करता.

संक्रमित व्‍यक्ति के साथ या उसी जगह पर बैठकर खाना खाना सुरक्षित है?

 

अगर किसी पार्टी में आप खा रहे हैं वहां संक्रमित व्‍यक्ति भी है, तो आप खतरे में हैं. हालांकि ये देखा गया है कि खाने को गर्म करने से ये वायरस खत्‍म हो जाता है.