नई दिल्ली: राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण नियामक एनपीपीए ने कैंसर, मधुमेह, संक्रमण, अस्थमा, दर्द समेत अन्य बीमारी के इलाज में उपयोगी 36 दवाओं की कीमतें तय की हैं. Also Read - Sharad Pawar Comment on Rahul Gandhi: ओबामा के बाद अब राहुल गांधी पर शरद पवार का कमेंट, बोले- राहुल में अभी...

Also Read - देश में फिर लगेगा Lockdown या Covid Vaccine पर होगी चर्चा? PM मोदी की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक आज

रोजाना गर्भनिरोधक दवाओं का सेवन करने वाली महिलाओं को हो सकती है ये दिक्‍कत Also Read - Gold Price Today 3 December 2020: लगातार दूसरे दिन सोने के दाम में उछाल, 481 रुपये की आई बढ़त, जानें आज का ताजा भाव

एक अधिसूचना में राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) ने अधिसूचना में कहा कि उसने 22 दवाओं की खुदरा कीमतें तय की हैं तथा 14 की उच्च कीमतों को संशोधित किया है. जिन दवाओं की कीमतों को संशोधित किया गया है, उसमें बुडेसोनाइड इनहेलेशन तथा जेंटामाइसिन इंजेक्शन शामिल हैं. जहां बुडेसोनाइड का उपयोग अस्थमा के इलाज में किया जाता है वहीं जेंटामाइसिन का उपयोग कीटाणुओं के संक्रमण के इलाज के लिये किया जाता है.

गर्भस्थ शिशु को सेरेब्रल पैल्सी का शिकार बनने से बचाएं, जानिए इसका कारण और कैसे रखें ख्‍याल

ये दवाएं हैं शामिल

इसके अलावा जिन अन्य दवाओं के खुदरा दाम नियत किये गये हैं, उसमें ट्रास्टुजुमाब इंजेक्शन (कैंसर के इलाज में उपयोगी) तथा मेटफोरमिन के साथ ग्लिकलाजाइड टैबलेट (डायबिटीज टाइप 2 के इलाज के लिये) शामिल हैं. एनपीपीए औषधि (कीमत नियंत्रण) आदेश, 2013 के तहत अनुसूची एक के अंतर्गत आने वाली जरूरी दवाओं के खुदरा मूल्य को नियत करता है.

लाइफस्टाइल की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.