लॉस एंजिलिस: अमेरिका में किए गए एक अध्ययन के मुताबिक अखरोट खाने से अवसाद का खतरा कम हो जाता है और एकाग्रता का स्तर बेहतर होता है. कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधार्थियों ने अखरोट खाने वाले लोगों में अवसाद का स्तर 26 प्रतिशत कम, जबकि इस तरह की अन्य चीजें खाने वालों में अवसाद का स्तर आठ प्रतिशत कम पाया है.Also Read - How To Make CCF Tea: रोजाना लंच और डिनर के बाद पीएं ये CCF टी, महिलाओं की एक मेन समस्या का है रामबाण इलाज

Also Read - Monsoon Health Tips: मॉनसून में इन 3 बातों का रखेंगे ख्याल, तो कभी नही होंगे बीमार

सर्दियों में ज्यादा ठंड लगे तो हो जाएं Alert, आपको है इस बीमारी का खतरा Also Read - Coronavirus Health Alert: कोरोना से संक्रमित हुए लोगों को किडनी का रखना चाहिए खास ख्याल

यह अध्ययन न्यूट्रेंट जर्नल में प्रकाशित किया गया है. अध्ययन में पाया गया है कि अखरोट खाना शरीर में ऊर्जा में वृद्धि और बेहतर एकाग्रता से संबद्ध है. विश्वविद्यालय के प्रमुख शोधार्थी लेनोर अरब ने एक अध्ययन का हवाला देते हुए बताया कि अध्ययन में शामिल किए गए छह में से हर एक वयस्क जीवन में एक समय पर अवसाद ग्रस्त होगा . इससे बचने के लिए किफायती उपायों की जरूरत है जैसे कि खान – पान में बदलाव करना.

Health: जल्द इलाज से ठीक हो सकता है कुष्ठ रोग, देर करने पर शारीरिक अपंगता का खतरा

अध्ययन में इतने लोग हुए शामिल

अरब ने बताया कि अखरोट पर शोध पहले हृदय रोगों के संबंध में किया गया है और अब इसे अवसाद के लक्षण से संबद्ध कर देखा जा रहा है. इस अध्ययन में 26,000 से अधिक अमेरिकी वयस्कों को शामिल किया गया.

सर्दियों में ऐसे बनाएं मसाला चाय, इन तकलीफों से रखेगी आपको दूर