नई दिल्ली : आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के करीब 4500 कर्मियों वाली लगभग 100 टीमों को देशभर में 71 स्थानों पर बाढ़ एवं भारी वर्षा से निपटने के लिए तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की सभी बटालियनों में अतिरिक्त टीमों को तैयार स्थिति में रखा गया है और उन्हें जरूरत पड़ने पर भेजा जाएगा.Also Read - Cyclone Shaheen: 'गुलाब' के बाद अब चक्रवात 'शाहीन' का खतरा, NDRF-SDRF ने संभाला मोर्चा

Also Read - Yellow Alert in Maharashtra: महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश, बिजली गिरने से 13 की मौत; सैकड़ों बचाए गए

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि एनडीआरएफ ने देशभर में कम से कम 14 राज्यों में 71 स्थानों पर बाढ़ प्रभावित लोगों के बचाव एवं उन्हें राहत मुहैया कराने के लिए 97 टीमें तैनात की हैं. एनडीआरएफ की एक टीम में 45 कर्मी होते हैं. Also Read - Cyclone Gulab: चक्रवाती तूफान से निपटने में जुटी बंगाल सरकार, जारी किया गया रेड अलर्ट, जानें कहां जाने की है मनाही

मुंबई की बारिश: NDRF ने दो ट्रेनों में फंसे 1500 से ज्‍यादा लोगों को सुरक्षित निकाला

अधिकारी ने बताया कि बल भारतीय मौसम विभाग, केंद्रीय जल आयोग और अन्य एजेंसियों के साथ लगातार सम्पर्क में है. बटालियन कमांडर संकट के समय सभी संभव मदद मुहैया कराने के लिए राज्य के अधिकारियों के साथ सम्पर्क में हैं. दिल्ली में एनडीआरएफ का एक नियंत्रण कक्ष पूरे समय स्थिति पर नजर रखे हुए है.

13 राज्‍यों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी, एनडीआरएफ की टीमें तैनात

अधिकारी ने कहा कि आपदा मोचन बल ने मानसून के मौसम में भारी वर्षा के चलते उत्पन्न होने वाली किसी भी विपरीत स्थिति से निपटने के लिए अपनी बचाव एवं राहत टीमें खतरे वाले स्थलों पर तैनात की हैं. टीमों की तैनाती जोखिम और राज्य एवं स्थानीय प्रशासन से सलाह मशविरे से की गई है. एक अन्य अधिकारी ने कहा कि एनडीआरएफ की टीमों ने मानिकपुर से 68 लोगों को तथा नालासोपारा, पालघर, महाराष्ट्र से 411 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है. पालघर में लगातार वर्षा से निचले क्षेत्रों में जलस्तर बढ़ गया है.