नई दिल्‍ली: दिल्ली में तबलीगी जमात के आयोजन में शामिल हुए लोगों में से 110 के तमिलनाडु में संक्रमित होने की पुष्टि हुई. राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 234 हुई है. बता दें कि इस सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले 50 लोग मंगलवार को संक्रमित पाए गए थे और राज्य में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 124 तक पहुंच गई थी. Also Read - Video: दिल्‍ली के CM केजरीवाल ने कोरोना मरीजों को भर्ती नहीं कर रहे अस्‍पतालों को दी चेतावनी

तमिलनाडु की हेल्‍थ सेक्रेट्री ने बताया कि 658 लोगों के सेम्‍पल लिए गए और 110 लोग पॉजिटिव मिले हैं. हेल्‍थ सेक्रेट्री बीला राजेश ने कहा कि वह उस हर व्‍यक्ति को धन्‍यवाद देना चाहती हैं, जो हमारी अपील पर दिल्‍ली के मरकज में हुए आयोजन से लौटने के बाद यहां इलाज के लिए स्‍वयं आगे आया. 1103 लोग सामने आए,‍ जिनमें से 658 के टेस्‍ट किए गए हैं. Also Read - क्या अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहिम की कोरोना से हुई मौत?, सोशल मीडिया में अटकलों का बाजार गर्म

निजामुद्दीन जाने वाले तबलीगी जमात के कई लोगों का अब भी पता नहीं
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के निजामुद्दीन में एक धार्मिक सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले तबलीगी जमात के कुछ लोगों की जानकारी अब भी नहीं मिली है। उन्होंने ऐसे लोगों से अपील की है कि वह अधिकारियों के संपर्क में आएं ताकि उनकी जांच हो सके. Also Read - राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमितों का आंकड़ा 10128, अब तक मृतक संख्‍या 219

सम्मेलन में गए 1,500 लोगों में से 1,131 लौट आए
राष्ट्रीय राजधानी में इस धार्मिक सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले कई लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए गए 1,500 लोगों में से 1,131 लौट आए हैं. उन्होंने कहा, ”कुल 515 लोगों की पहचान की गई है. अन्य जिन्होंने भी इस सम्मेलन में हिस्सा लिया है, उन्हें अधिकारियों के संपर्क में आना चाहिए क्योंकि हमारे पास इन लोगों के पते नहीं है.”

एक वर्ग से अब भी संपर्क नहीं हो पाया है
पलानीस्वामी ने संवाददाताओं को बताया कि एक वर्ग से अब भी संपर्क नहीं हो पाया है, जबकि अन्य अभी दिल्ली में पृथक करके रखे गए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के खतरे और समाज के बड़े तबके पर इसके विपरित प्रभाव को देखते हुए वापस आए लोगों को अधिकारियों से मिलना चाहिए ताकि उनकी जांच हो सके और जरूरत पड़ने पर उनका इलाज हो सके.

इस नंबर पर फोन करके स्वास्थ्य अधिकारियों से संपर्क करें 
वहीं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन तमिलनाडु ने भी कहा है कि तबलीगी जमात समाज को तत्काल 7824849263/044 46274411 इस नंबर पर फोन करके स्वास्थ्य अधिकारियों से संपर्क करना चाहिए. वहीं उनसे जब पूछा गया कि क्या इशा योगा के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों की भी जांच होगी तो उन्होंने कहा कि अगर लक्षण दिखेंगे तो जांच होगी. पलानीस्वामी ने अम्मा कैंटीन के कामकाज की भी जांच की और अच्छी गुणवत्ता का सस्ता खाना लोगों को देने के लिए कैंटीनों की सराहना की.