नई दिल्लीः सरदार वल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंति के अवसर पर देश भर के कई शहरों में रन फॉर यूनिटी का आयोजन किया गया है. 31 अक्टूबर को पूरा देश एकता दिवस के रूप में मनाता है और इस उपलक्ष में लोग एक साथ दौड़ कर एकता का संदेश देते हैं. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्‍ली के मेजर ध्‍यानचंद नेशनल स्‍टेडियम से ‘रन फॉर यूनिटी’ को किया रवाना.

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा, पूरे 70 साल हो गए, किसी ने धारा 370 और 35 एक को छूना भी मुनासिब नहीं समझा, 2019 में देश की जनता ने हमारे पीएम मोदी को देश की बागडोर सौंपी और 5 अगस्‍त वो दिन था, जिस दिन देश की पार्लियामेंट ने धारा 370 और 35 ए हो हटाने का काम किया. उन्होंने कहा कि धारा 370 और 35 ए देश के अंदर आतंकवाद की इंट्री का गेटेवे बनी हुई थी, इस गेटवे को रुक जाओ करके एक फाटक लगाने का काम भारत के पीएम नरेंद्र मोदी जी ने किया है.

गुरुवार यानि आज सरदार पटेल को श्रद्धांजलि देने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी गुजरात पहुंच गए हैं. प्रधानमंत्री देर रात गुजरात पहुंचे और सबसे पहले आपनी मां का आशीर्वाद लिया. आज के रन फॉर यूनिटी में देश के आम लोग ही नहीं बल्की हर तबके के लोग इसमें शामिल होंगे. पीएम मोदी ने देश वासियों से रन फॉर यूनिटी कार्यक्रम में भाग लेने की अपील भी की. केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भुवनेश्वर में रन फॉर यूनिटी कार्यक्रम में भाग लिया

आपको बता दें कि 2014 में पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनने के बाद सरकार की तरफ से सरदार पटेल की जयंति पर 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के तौर पर मनाने की घोषणा की गई थी.एक जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के हर जिले में रन फॉर यूनिटी का आयोजन किया जाएगा.  इस मौके पर प्रशासन ने दिल्ली में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की है. दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने आज सुबह चार बजे से ही मैट्रो सेवा शुरू कर दी थी और साथ ही कहा है कि आज आधे घंटे के गैप में मेट्रो मिलेगी.