वाशिंगटन: अमेरिका के दक्षिण में मेक्सिको और बहामास से सटी सीमा पार कर अवैध रूप से देश में घुसने का प्रयास कर रहे पंजाब के रहने वाले कम से कम 15 युवक लापता हो गए हैं. एक सामुदायिक कार्यकर्ता ने सोमवार को यह जानकारी दी. उत्तर अमेरिकी पंजाबी एसोसिएशन (नापा) के कार्यकारी निदेशक सतनाम सिंह चाहल के अनुसार इनमें से छह युवक बहामास द्वीप की ओर से सीमा लांघने कर अमेरिका में घुसने का प्रयास कर रहे थे जबकि नौ युवक मेक्सिको की तरफ से अमेरिका में प्रवेश करने का प्रयास कर रहे थे. Also Read - Man Trying To Scale Wall At Hindon Airbase Shot At By Security Forces | रॉ के अलर्ट ने बढ़ाई हिंडन एयरबेस पर हलचल, स्कूल भी किए गए बंद!

लापता युवकों के परिजनों ने नापा को बताया कि मूलतः पंजाब के निवासी 56 लोगों का समूह अमेरिकी सीमा से केवल एक घंटे की दूरी पर था तब मेक्सिको की सेना ने उन्हें पकड़ लिया. चाहल ने एक बयान में कहा कि मेक्सिको की सेना ने छह पंजाबी युवकों को हिरासत में लेकर बाद में छोड़ दिया जो अमेरिका पहुंच गए लेकिन 11 युवकों को ले जाया गया जिनका अभी तक पता नहीं चल सका है. उन्होंने बताया कि छह युवक बहामास की तरफ से अमेरिका में प्रवेश करने के दौरान लापता हो गए.

आपको बता दें कि भारतीय-अमेरिकी सीमा वर्मा का नाम ट्रंप प्रशासन द्वारा गठित की गई कोरोना वायरस टास्क फोर्स में प्रमुख सदस्य के रूप में जोड़ा गया है. यह जानकारी अमेरिकी उपराष्ट्रपति ने अपने एक अधिकारिक बयान में दी. वर्मा का अपॉइंटमेंट ऐसे समय में हुआ है, जब यूएस में कोरोना वायरस के 100 से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 6 लोगों की मौत हो चुकी है.

वर्मा ने पेंस की अगुवाई में सोमवार को हो रही ब्रीफिंग में अपने नए रोल के साथ उपस्थिति दर्ज कराई. स्वास्थ्य और मानव सेवा सचिव एलेक्स अजार इस टास्क फोर्स की अध्यक्षता कर रहे हैं. लेकिन वे पेंस और बीरक्स को रिपोर्ट करेंगे.