बरेली: उत्तर प्रदेश के बरेली में सोमवार सुबह एक दर्दनाक हादसा हो गया. बड़ा बाईपास के इंवर्टिस यूनिवर्सिटी मोड़ पर दिल्ली से गोंडा जा रही रोडवेज की बस की लखनऊ की ओर से आ रहे ट्रक से जोरदार टक्कर हो गई. इसके बाद जोरदार धमाके के साथ बस और ट्रक में आग लग गई. आग लगने से बस में सवार 22 यात्रियों की जलकर मौत हो गई. वहीं कई मुसाफिर बुरी तरह जख्मी हो गए. Also Read - Nepal Road Accident: नेपाल में भीषण सड़क हादसा, नौ लोगों की दर्दनाक मौत, 34 लोग घायल

पुलिस के मुताबिक मरने वालों की और संख्या और बढ़ सकती है. जांच में पता चला है कि बस का पिछला दरवाजा बंद था, जिसकी वजह से मुसाफिर तुरंत बाहर नहीं निकल सके. बस दिल्ली के आनंद बिहार से गोंडा जा रही थी. Also Read - Bus caught Fire in Bihar: बिहार में चलती बस में लगी भीषण आग, 50 यात्री थे सवार

आग इतनी भीषण थी कि यात्रियों को बस से निकलने का मौका ही नहीं मिला और बस में सवार ज्यादातर यात्रियों की आग में जिंदा जलकर मौत हो गई. घटना की खबर मिलते ही मौके पर फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने पहुंचकर आग पर काबू पाया. ये बस गोंडा डिपो की थी. Also Read - पत्नी का निधन हुआ तो बाप ने 15 साल की बेटी से बनाए शारीरिक संबंध, बार-बार रेप से परेशान लड़की ने...

घायलों को कराया गया अस्पताल में भर्ती 

इस हादसे की खबर मिलते ही एसएसपी समेत तमाम पुलिस के अधिकारी मौके पर घटना स्थल पर पहुंचे. फिलहाल आईजी एसके भगत ने 22 यात्रियों की मौत की पुष्टि की है. उनका कहना है कि अभी मरने वालों की संख्या और भी बढ़ सकती है. वहीं घायलों को सिद्धिविनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

हेल्पर चला रहा था रोडवेज बस, सो रहा था ड्राइवर
रोडवेज बस का ड्राइवर सुंदरलाल और हेल्पर दोनों हादसे में बच गए हैं. झुलसे होने की वजह से उन्हें एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सुंदरलाल ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि वह रामपुर के पास सो गया था. बस उसका हेल्पर चला रहा था. इस वजह से उसे हादसे की जानकारी नहीं है.