नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एक बार फिर से इंसानियत शर्मसार हुई है. दिल्ली के आदर्श नगर इलाके में एक 18 वर्षीय लड़को को मौत के घाट सिर्फ इसलिए उतार दिया गया क्योंकि वह एक दूसरे धर्म की लड़की से दोस्ती रखता था. शुरुआती जांच में सामने आया है कि मामला प्रेम प्रसंग का था. लड़के को अपनी जिंदगी से इसलिए हाथ धोना पड़ा क्योंकि वह हिंदू समुदाय का था और लड़की मुस्लिम धर्म की थी. लड़के की हत्या का तीन नाबालिगों सहित कुल पांच लोगों पर लगा है जिसमें लड़की का भाई भी शामिल है.Also Read - मुस्लिम महिलाओं के प्रति अश्लील टिप्पणी का केस: Club House पर बिसमिल्लाह नाम से प्रोफाइल बनाए था आरोपी, पकड़ा गया

दिल्ली पुलिस ने इस मामलें तुरंत कार्रवाई करते हुए पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि लड़की जहांगीरपुरी में रहती थी और लड़का आदर्श नगर का रहने वाला था. दोनों एक दूसरे से बात करते थे जो लड़की के भाइयों को पसंद नहीं था. लड़की के भाइयों ने पहले लड़के को जान से मारने की धमकी दी और बाद में पीट पीट कर उसकी हत्या कर दी. Also Read - Bulli Bai App Case: बुल्ली बाई एप के आरोपी सु्ल्ली डील एप में भी थे शामिल, मुंबई पुलिस ने कोर्ट को दी ये जानकारी

पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि 7 अक्टूबर को बाबू जगजीवन राम अस्पताल से एक शख्स की मौत की सूचना पुलिस को मिली और जिसके बाद पुलिस के अस्पताल पहुंचने पर मृतक की पहचान राहुल के रूप में हुई. राहुल की बॉडी पर बाहरी चोट नहीं दिख रही थी, लेकिन जब उसका पोस्टमार्टम हुआ तो पता चला कि उसे काफी गहरी चोट आईं थी जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई. Also Read - गाजीपुर में IED मिलने का मामला: टेलीग्राम पर अलकायदा से जुड़े संगठन ने ली जिम्मेदारी, दिल्ली पुलिस जांच में जुटी

राहुल आदर्श नगर इलाके की मूलचंद कॉलोनी में अपने परिवार के साथ रहता था. उसके साथ पिता संजय, मां रेणुका और छोटी बहन मुस्कान भी रहती थी. राहुल घर में ट्यूशन पढ़ाने का काम करता था वहीं पर उसकी मुलाकात क्लास में आने वाली बीए सेकंड ईयर का छात्रा से हुई और दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई.

मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि राहुल की एक लड़की से दोस्ती थी, लेकिन लड़की का परिवार वाले लगातार इस दोस्ती का विरोध कर रहे थे. वह राहुल को पसंद नहीं करते थे क्योंकि वह हिंदू धर्म से था. परिजनों ने बताया कि लड़की के घरवालों ने राहुल को बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने के बहाने फोन कर घर बुलाया और जैसे ही घर से कुछ दूरी पर पहुंचा तो घात लगाए आरोपियों ने उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी. फिलहाल अब पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच में जुट गई है.