हैदराबाद के नानाकरमगुडा में गुरुवार रात को एक सात मंजिला इमारत ढह गयी। इस निर्माणाधीन इमारत के गिरने से हुए हादसे में एक व्‍यक्ति की मौत हो गयी। जबकि कई अन्‍य घायल हो गये. रिपोर्ट के मुताबिक बिल्डिंग का निर्माण कार्य हाल ही में पूरी हुआ था और उसमें टाइल्स लगाने और प्लंबिंग का काम चल रहा था। जिस वक़्त ये बिल्डिंग गिरी उस वक़्त उसमें 5 परिवार मौजूद थे. इनमें 4 परिवार टाइल्स वर्कर और प्लंबर के थे जबकि एक परिवार चौकीदार का था। डिप्‍टी मेयर बाबा फसिऊद्दीन के अनुसार बचाव राहत कार्य शुक्रवार सुबह भी जारी है। उन्‍होंने कहा कि अभी भी करीब 10-12 लोगों के मलबे में फंसे होने का अंदेशा है। बचाये गये लोगों में एक बच्चा शामिल है।

इस इमारत का ढांचा हाल ही में पूरा हुआ था और उसमें टाइल्स लगाने और प्‍लंबिंग का काम चल रहा था। साइबराबाद के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया ‘जिस वक्‍त ये इमारत ढही, उस वक्‍त उसमें 10 से ज्‍यादा लोग काम कर रहे थे। उन्होंने बताया कि ये हादसा रात 10 बजे हुआ। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई है और राहत और बचाव कार्य जारी है। यह भी पढ़े-मुंबई: बांद्रा स्थित पांच मजिला इमारत ढहने से चार की मौत, पांच घायल

तेलंगाना के गृहमंत्री एन नरसिम्‍हा रेड्डी और हैदराबाद के पुलिस प्रमुख भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। रेड्डी ने कहा कि इमारत के निर्माण में नियमों का उल्लंघन देखा गया है। ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम के मेयर बोन्थु राममोहन का कहना है कि इमारत का निर्माण सही नहीं था और इस्तेमाल किए गए माल भी उचित नहीं थे, इसलिए वह ढह गई।

हादसे की जानकारी स्थानीय लोगों ने 10:30 बजे पुलिस, फायर डिपार्टमेंट और ग्रेटर म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन को दी। जिसके बाद अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे।