नई दिल्ली: अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर में स्थिति लगातार सुधर रही है. अब यहां इंटरनेट और फ़ोन सेवाएं भी बहाल की जा रही हैं. यहां की 100 से अधिक टेलीफोन एक्सचेंज में से 17 को बहाल कर दिया गया है. ये एक्सचेंज अधिकतर सिविल लाइन्स क्षेत्र, छावनी क्षेत्र, श्रीनगर जिले के हवाई अड्डे के पास है. मध्य कश्मीर में बडगाम, सोनमर्ग और मनिगम में लैंडलाइन सेवाएं बहाल की गई हैं. उत्तर कश्मीर में गुरेज, तंगमार्ग, उरी केरन करनाह और तंगधार इलाकों में सेवाएं बहाल हुई हैं. वहीं, दक्षिण कश्मीर में काजीगुंड और पहलगाम इलाकों में सेवाएं बहाल की गई हैं.

इसके साथ ही पांच जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बहाल की गई है. जम्मू, रेयासी, संबा, कठुआ, उधमपुर में मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बहाल कर दी गई है. इन जिलों में टू जी इंटरनेट सेवा बहाल की गई है. घाटी में कई स्कूल कॉलेज भी खुल गए हैं. बाजारों में भी लोगों की चहल पहल है. दुकानें खुल गई हैं. बकरीद के बाद एक और शुक्रवार गुजर गया. कश्मीर में अब एक कोई बड़ी अप्रिय घटना नहीं घटी है.

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल कश्मीर से 11 दिन बाद बाद लौट आये हैं. 370 हटाए जाने के बाद से वह कश्मीर में थे. और लोगों से मिलकर बातचीत कर रहे थे. हालात का जायजा ले रहे थे. केंद्र सरकार के जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के कुछ प्रावधान हटाने के बाद पांच अगस्त से ही यहां मोबाइल फोन और लैंडलाइन सेवाओं सहित टेलीफोन सेवाएं स्थगित कर दी गई थीं.