नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी के सभी रेस्तरां को बंद कर दिया. हालांकि, खाना खरीदकर ले जाने और घर तक खाना पहुंचाने की सुविधा जारी रहेगी. मुख्यमंत्री ने कहा, पूरी दिल्ली में कोरोना वायरस के फैलने के खतरे को देखते हुए 20 से अधिक लोगों के साथ सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक जमावड़े पर रोक रहेगी.Also Read - Coronavirus cases In India: 1 दिन में 34 हजार से अधिक लोग हुए संक्रमित, वर्तमान में इतने हैं एक्टिव मामले

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, उप राज्यपाल अनिल बैजल ने सभी सरकारी विभागों, स्वायत्त निकायों और सार्वजनिक उपक्रमों को गतिविधियों को अलग-अलग बांटने और सभी गैर जरूरी सेवाएं स्थगित करने को कहा है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार से गैर जरूरी सेवाएं बंद रहेंगी. Also Read - Covid 19 in Festival Season: अगले कुछ महीने में कोरोना संक्रमण के बढ़ने की है संभावना, फेस्टिवल सीजन के लिए सरकार ने जारी किया बयान

Also Read - Delhi: शिरोमणि अकाली दल का कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध मार्च, दो मेट्रो स्‍टेशनों के गेट बंद, सुरक्षा बढ़ी

मुख्यमंत्री ने कहा, पूरी दिल्ली में कोरोना वायरस के फैलने के खतरे को देखते हुए 20 से अधिक लोगों के साथ सामाजिक,सांस्कृतिक और राजनीतिक जमावड़े पर रोक रहेगी.

सीएज केजरीवाल ने कहा, हम काबू करने के स्तर पर कोरोना वायरस को नियंत्रित करने में सफल हुए हैं और यह समुदाय के स्तर पर नहीं पहुंचा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन लोगों को अलग रहने को कहा गया है वे नियमों का अनुपालन करें अन्यथा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस से 10 लोग संक्रमित हुए हैं, जबकि एककी मौत हुई है.