नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी के सभी रेस्तरां को बंद कर दिया. हालांकि, खाना खरीदकर ले जाने और घर तक खाना पहुंचाने की सुविधा जारी रहेगी. मुख्यमंत्री ने कहा, पूरी दिल्ली में कोरोना वायरस के फैलने के खतरे को देखते हुए 20 से अधिक लोगों के साथ सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक जमावड़े पर रोक रहेगी. Also Read - VIDEO: कोरोना संकट के बीच दिखा ये नजारा, विधायक ने खुलेआम एएसआई के छुए पैर

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, उप राज्यपाल अनिल बैजल ने सभी सरकारी विभागों, स्वायत्त निकायों और सार्वजनिक उपक्रमों को गतिविधियों को अलग-अलग बांटने और सभी गैर जरूरी सेवाएं स्थगित करने को कहा है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार से गैर जरूरी सेवाएं बंद रहेंगी. Also Read - COVID-19: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 116 हुई

मुख्यमंत्री ने कहा, पूरी दिल्ली में कोरोना वायरस के फैलने के खतरे को देखते हुए 20 से अधिक लोगों के साथ सामाजिक,सांस्कृतिक और राजनीतिक जमावड़े पर रोक रहेगी.

सीएज केजरीवाल ने कहा, हम काबू करने के स्तर पर कोरोना वायरस को नियंत्रित करने में सफल हुए हैं और यह समुदाय के स्तर पर नहीं पहुंचा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन लोगों को अलग रहने को कहा गया है वे नियमों का अनुपालन करें अन्यथा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस से 10 लोग संक्रमित हुए हैं, जबकि एककी मौत हुई है.