जयपुर: राजस्‍थान की राजधानी जयपुर की एक विशेष अदालत 2008 के जयपुर सिलसिलेवार बम विस्फोट मामले (2008 Jaipur bomb blasts case) में आज शुक्रवार को शाम 4 बजे फैसला सुनाया है, जिसमें चारो दोषियों को फांसी की सजा सुनाई है. यह मुंबई में हुए विस्फोटों के बाद दूसरा सबसे घातक विस्फोट था, जिसमें 71 लोग मारे गए थे और 185 अन्य घायल हुए थे.

बता दें राजस्थान की एक विशेष अदालत ने जयपुर बम विस्फोट मामले में बीते बुधवार को चार आरोपियों को दोषी ठहराया था, जबकि एक आरोपी को दोषमुक्त करार दिया. अदालत ने इस मामले में आरोपी मोहम्मद सरवर आजमी, मोहम्मद सैफ, मोहम्मद सलमान और सैफुर्रहमान (Sarvar Aazmi, Mohammad Saif, Saifur Rahman, and Salman) को दोषी माना है, जबकि शाहबाज हुसैन को संदेह का लाभ देते हुए दोषमुक्त करार दिया.

अदालत ने गुरुवार को चार दोषियों के लिए सजा के अनुपात पर बहस सुनी और शुक्रवार शाम चार बजे फैसला सुनाना तय किया था.

विशेष लोक अभियोजक श्रीचंद ने बताया था कि मैंने उनके लिए मृत्युदंड की मांग की है. यह मुंबई में हुए विस्फोटों के बाद दूसरा सबसे घातक विस्फोट था, जिसमें 71 लोग मारे गए थे और 185 अन्य घायल हुए.’’

चार आरोपियों के खिलाफ इन धारों के तहत सजा
– आईपीसी की धारा 302, 307,324, 326, 120 बी, 121ए और 124 ए, 153 ए के तहत दोषी माना गया है.
– विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की धारा तीन के तहत
– विधि विरुद्ध क्रियाकलाप अधिनियम की धारा 13, 16, 1 ए और 18 के तहत भी दोषी ठहराया गया है.