मालेगांव बम धमाके के मामले में एनआईए से क्लीन चिट मिलने के बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की जमानत पर 6 जून को सुनवाई होगी। गौरतलब साल 2008 के मालेगांव धमाके में एनआईए की क्लीन चिट मिलने के बाद कोर्ट में आरोपी साध्वी प्रज्ञा ने जमानत की अर्जी दी थी, जिस पर कोर्ट ने जून में सुनवाई की तारीख तय की।

2008 मालेगांव ब्लास्ट मामले की जांच कर रही NIA ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को क्लीन चिट दे दी है। NIA के क्लीन देने के बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के रिहा होने का रास्ता साफ़ नजर आने लगा है। गौरतलब हो की एजेंसी ने मुंबई की एक अदालत में दायर होने वाली चार्जशीट में साध्वी का नाम नहीं दिया है। मालेगांव में हुए धमाकों में चार लोगों की मौत हो गई थी, 79 लोग जख्मी हो गए थे। एजेंसी ने आरोप-पत्र में कहा है कि उनके खिलाफ दर्ज मुकदमा चलाने लायक नहीं है। यह भी पढ़ें : 2008 मालेगांव ब्लास्ट केस में NIA दे सकती है साध्‍वी प्रज्ञा को क्‍लीन चिट

वहीं सूत्रों की माने तो 26/11 मुंबई हमलों में शहीद हेमंत करकरे जांच पर अब सवाल उठने लगे हैं। ऐसी खबरें हैं की हेमंत करकरे की जांच में कई खामियां थी। ऐसा कहा जा रहा है की हेमंत करकरे की तरफ से जो जांच के बाद इस मामले के एक अन्‍य आरोपी कर्नल पुरो‍हित के खिलाफ पेश किए गए सबूत मनगढंत और गलत थे। बता दें कि साध्वी प्रज्ञा के वकील ने सोमवार को मुंबई की एक कोर्ट में जमानत के लिए याचिका दायर की थी, जिस पर कोर्ट ने जून में सुनवाई की तारीख तय की।