नई दिल्ली: नए सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने ने शुक्रवार को कहा कि लगभग 250 पाकिस्तानी आतंकवादी नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार तैनात हैं और हर दिन भारतीय सीमा में घुसपैठ का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि नियंत्रण रेखा के पार लगभग 20 से 25 सक्रिय आतंकी लॉन्च पैड हैं और भारत स्थिति की निगरानी कर रहा है. Also Read - पाकिस्तान में हालात बिगड़े, 3 बजे तक के लिए बंद किए गए सभी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म

जनरल नरवने ने कहा कि पाकिस्तान ने बालाकोट में फिर से आतंकी कैंप सक्रिय कर दिए हैं. 26 फरवरी, 2019 को बालाकोट एयर स्ट्राइक के बारे में नरवने ने कहा, “हमने निश्चित रूप से बहुत कुछ हासिल किया है. आतंकी शिविरों का विनाश हुआ था.” Also Read - पाकिस्तान ने कपास के आयात पर सीमा शुल्क पर दी छूट

उन्होंने कहा कि वहां फिर से आतंकी शिविर सक्रिय हो गए हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि आतंकी शिविरों व लॉन्च पैड के स्थान बदलते रहते हैं. जनरल नरवने ने कहा, “ऐसी धारणा है कि आतंकी कैंप मदरसे या कुछ विशाल बुनियादी ढांचे के माध्यम से चलाए जाते हैं. छोटी झोपड़ियों से भी आतंकी शिविर संचालित किए जा रहे हैं. ये शिविर गांवों में घरों से भी चलाए जाते हैं.” Also Read - समुद्री रास्ते भारत आ रहे 8 पाकिस्तानी गिरफ्तार, 150 करोड़ की हेरोइन जब्त

उन्होंने कहा कि खुफिया अनुमान के अनुसार नियंत्रण रेखा के पार लगभग 200 से 250 आतंकवादी इंतजार कर रहे हैं और घुसपैठ के लिए हर दिन प्रयास कर रहे हैं. सेना प्रमुख ने यह भी कहा कि घाटी में भारी बर्फबारी के कारण पाकिस्तानी आतंकवादियों के लिए घुसपैठ करना मुश्किल हो गया है. जब विदेशी (अफगान) आतंकवादियों द्वारा नियंत्रण रेखा पार करने के प्रयास के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि इस तरह का प्रयास करने वाले कई आतंकी मारे गए हैं.

(इनपुट आईएएनएस)