एलुरु: जहां एक तरफ देश में कोरोना वायरस और बर्ड फ्लू से जनता परेशान है वहीं अब एक और नई बीमारी का डर सताने लगा है. इस समय आंध्र प्रदेश में एक रहस्मयई बीमारी का साया लोगों को सता रहा है. आंध्र प्रदेश के पश्चिमी गोदावरी जिले के पुल्ला गांव में रहस्यमय बीमारी के मामले बुधवार सुबह 9 बजे तक बढ़कर 29 हो गए. हालांकि, इनमें सक्रिय मामले केवल छह थे. स्वास्थ्य अधिकारियों ने यह जानकारी दी. पश्चिम गोदावरी जिले के संयुक्त कलेक्टर हिमांशु शुक्ला ने आईएएनएस से कहा, “आधी रात के बाद से कोई नया मामला नहीं है.”Also Read - UPTET 2021: कोरोना संक्रमित अभ्यर्थी दे सकेंगे यूपीटीईटी परीक्षा, अलग से होगी व्यवस्था

पुल्ला में सोमवार से रहस्यमय बीमारी के मामले सामने आ रहे हैं. यह एलुरु शहर से 30 किमी उत्तर पूर्व में है. छह सक्रिय मामलों में से दो पुल्ला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और चार एलुरु जिला अस्पताल में भर्ती हैं. Also Read - Under 19 World Cup 2022: फिर सामने आए कोरोना के मामले, अब इस टीम के खिलाड़ी मिले संक्रमित

इस रहस्यमयी बीमारी की चपेट में आए 23 लोगों को अबतक डिस्चार्ज किया जा चुका है. इसी सिलसिले में पुला, भीमाडोलु और एलुरु के अस्पतालों में लगभग 100 बेड की व्यवस्था की गई है. Also Read - कोरोना वायरस से संक्रमित हुए Harbhajan Singh, घर में ही किया गया क्‍वारंटीन

जिला प्रशासन ने तीन जनरल फीजीशियन, 17 पीएचसी डॉक्टरों, 10 एएनएम और 30 आशा कार्यकर्ताओं की नियुक्ति की है. प्रभावित रोगियों में एलुरु के मामलों जैसे ही बेहोशी, ऐंठन, उल्टी और अन्य लक्षण सामने आए.

हालांकि, रहस्यमय बीमारी से प्रभावित होने के बाद ज्यादातर मरीज कुछ ही घंटों के भीतर ठीक हो गए हैं. मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्री अल्ला काली कृष्ण श्रीनिवास ने पुल्ला स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया. उन्होंने कहा कि विशेषज्ञ निर्धारित करेंगे कि ये मामले क्यों सामने आए हैं.