अगरतला: सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने बांग्लादेश के रैपिड एक्शन बटालियन (आरएबी) के तीन जवानों तथा उनके दो मुखबिरों को बिना किसी वैध दस्तावेज के त्रिपुरा सीमा से होकर भारत में प्रवेश करने के लिए हिरासत में लिया है. एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने शुक्रवार को उन्हें भारत बांग्लादेश सीमा पर स्थित रहीमपुर गांव से हिरासत में लिया गया.

यूपी सरकार ने की वक्फ संपत्तियों की खरीद-फरोख्त की CBI जांच की सिफारिश

बल के एक अधिकारी ने बताया कि वह बृहस्पतिवार की रात बिना किसी वैध दस्तावेज के भारतीय सीमा में प्रवेश कर गए, उनका मकसद एक भारतीय नशा तस्कर अबु खैर तथा बांग्लादेशी नशा तस्कर माशूक मियां को पकड़ना था. उन्होंने बताया कि बांग्लादेशी नागरिकों को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उन पर हमला किया. बाद में उन्हें बल के हवाले कर दिया गया.

बीएसएफ ने उनके पास से 7.7 मिमी का पिस्तौल, सात चक्र कारतूस, दो हथकड़ी, पहचान पत्र, सात मोबाइल फोन, और डेढ़ लाख बांग्लादेशी टका बरामद किया. इसके बाद बोर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) तथा सीमा सुरक्षा बल के बीच कंपनी कमांडर स्तरीय बैठक शुक्रवार को हुई और हिरासत में लिए गए सभी लोगों को उनके सामानों के साथ पड़ोसी मुल्क के अधिकारियों के हवाले कर दिया गया.