नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में 15 से 19 सितंबर के बीच कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौतों की संख्या 30-40 के बीच में रही, जबकि इस दौरान रोजाना 4,000 से अधिक नए मामले सामने आए. आधिकारिक आंकड़ों में यह जानकारी सामने आयी है. इस पांच दिन की अवधि में, हालांकि, हर दिन रिकॉर्ड 60,000 से 62,000 जांच की गईं. Also Read - दिल्ली में बहाल होगी इंटरस्टेट बस सेवा, डीटीसी और क्लस्टर बसों में 20 सवारियों की लिमिट खत्म

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, कोविड-19 मामलों में इस महीने की शुरुआत से काफी अधिक बढ़ोतरी आयी है. गत 16 सितंबर को 4,473 नये मरीज आये थे, जो अब तक एक दिन में मामलों की संख्या में सर्वाधिक बढ़ोतरी है. उस दिन 33 मौतें हुई थीं, जबकि मरने वालों की संख्या 4839 थी. Also Read - Alert: AIIMS निदेशक की चेतावनी- हमें सावधान रहने की जरूरत, कोरोना के तीसरे लहर की हो चुकी है शुरुआत?

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 15 से लेकर 19 सितंबर के बीच सामने आए दैनिक मामले और दैनिक मृत्यु की संख्या क्रमश: इस प्रकार है: 4263 (36 मौतें); 4473 (33); 4432 (38); 4127 (30); और 4071 (38). दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 के 4,071 नए मामले सामने आए, जिससे महानगर में संक्रमितों की संख्या 2.42 लाख से अधिक हो गई, जबकि मृतकों की संख्या 4,945 हो गई. Also Read - Video: ईद ए मिलादुन्नबी के जुलूस में उड़ीं कोरोना गाइड लाइंस की धज्जियां, 10 की जगह पहुंचे सैकड़ों लोग

शनिवार को जारी किए गए स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, पिछले 10 दिनों के आंकड़ों के आधार पर लोगों के संक्रमित होने की दर 6.57 प्रतिशत और मृत्यु दर 0.74 प्रतिशत रही. बुलेटिन के अनुसार, मरीजों के ठीक होने की दर 84 प्रतिशत से अधिक है, जबकि समग्र मामले में मृत्यु दर 2.04 प्रतिशत है.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शुक्रवार को कहा था, “यह अच्छा है कि मृत्यु दर 1 प्रतिशत से कम है, यह एक महीने पहले 3.5-4 प्रतिशत से ऊपर थी.” जैन ने दावा किया, ‘‘अभी की स्थिति ठीक है.’’ आठ सितंबर से, दिल्ली सरकार ने जांच की संख्या में काफी वृद्धि की है. गत 15 सितंबर को अब तक की सर्वाधिक 62,669 जांच हुई है.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 16 से 19 सितंबर तक हुई जांचों की संख्या क्रमशः 62593, 60014, 61037 और 61973 थी. पिछले दिनों के आंकड़ों की तुलना में इस अवधि में उपचाराधीन रोगियों की संख्या में भी वृद्धि हुई है. गत 15 से 19 सितंबर के बीच इलाज करा रहे मरीजों की संख्या क्रमश: 29,787 ; 30,914; 31,721; 32,250 और 32,064 रही.

(इनपुट भाषा)