नई दिल्लीः दिल्ली विधानसभा चुनाव की छह जनवरी को घोषणा और आचार संहिता लागू होने के बाद से राष्ट्रीय राजधानी में आबकारी कानून के तहत 339 प्राथमिकी दर्ज की है. अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि आबकारी कानून के साथ चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में इस दौरान 347 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. Also Read - West Bengal Assembly Elections 2021 Opinion Poll: बंगाल में फिर एक बार ममता सरकार! लेकिन 3 से 100 पर पहुंच सकती है भाजपा; जानिए क्या है जनता का मूड

दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी के कार्यालय में कार्यरत वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 15 जनवरी तक देश में निर्मित शराब की 47 शराब बोतलें 750 मिलीलीटर क्षमता की, 318 बोतलें 375 मिलीलीटर क्षमता की और 25,681 बोतलें 180 मिलीलीटर क्षमता की जब्त की गई हैं. Also Read - बीजेपी ने काउंटर नारे से ममता बनर्जी पर साधा निशाना, कहा- बंगाल को अपनी बेटी चाहिए, बुआ नहीं

अधिकारी ने बताया कि इसके अलावा विदेशी शराब की 502 बोतलें 750 मिलीलीटर की और 194 बोतलें 375 मिलीटर की पकड़ी गई हैं. उन्होंने बताया कि इस अवधि के दौरान 89,391 बोतलें देशी शराब की भी पकड़ी गई हैं. इस दौरान कुल 87 प्रविष्टियां दर्ज की गई जिनमें 82 प्राथमिकी और पांच दैनिक डायरी शामिल है. इनमें आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के खिलाफ दर्ज मामले भी शामिल हैं. Also Read - Delhi: बहन के पीछे पड़े मनचलों की हरकत का विरोध करने पर भाई को चाकुओं से गोदा, लड़की ने बयां की दास्‍तां

आपको बता दें कि आचार संहिता लागू होने के बाद से दिल्ली पुलिस सतर्क हो गई है और जगह जगह पर तलाशी अभियान भी शुरू कर दिया है. पुलिस का मानना कि चुनाव के दौरान किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से बचने के लिए इस तरह के अभियान कि आवश्यकता होती है.