नई दिल्ली. हिमाचल प्रदेश के लाहौल और स्पीति में ट्रैकिंग करने गए 45 लोगों के लापता होने की सूचना है. इसमें 35 इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT), रुड़की के स्टूडेंट्स हैं. बताया जा रहा है कि ये सभी ट्रैकिंग करने गए थे. इस बीच भारी बर्फबारी में वे फंस गए और तबसे उनसे किसी तरह से संपर्क नहीं हो पाया है. Also Read - New Education Policy 2020: रमेश पोखरियाल ने कहा- नई शिक्षा नीति आधुनिकता के सारे आयामों को है जोड़ती

लापता स्टूडेंट्स में एक के पिता ने न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए कहा, उनका ग्रुप कुल्लू के हमता ट्रैकिंग पास गया था. उन्हें मनाली लौटना था. लेकिन फिलहाल उनके ग्रुप से किसी तरह का संपर्क नहीं हो पाया है. बता दें कि हिमाचल में भारी बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. कांगरा, कुल्लू और हमीरपुर जिले में मंगलवार को स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं. Also Read - आईआईटी रुड़की ने विकसित की नई तकनीक, अब धुंध भरे मौसम में भी सुचारू रूप से चलेगी गाड़ियां

रिपोर्ट के मुताबिक, हिमाचल में भारी बारिश से सोमवार को 8 लोगों की मौत हो गई. बर्फबारी से चंडीगढ़-मनाली हाईवे बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. वहीं, पठानकोट-चंबा हाईवे पर भी इसका असर पड़ा है. मनाली, चंबा और डलहौजी मुख्य मार्गों से कट गया है.

हिमाचल के कुल्लू में हाई अलर्ट
हिमाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश से कुल्लू, कांगड़ा और चंबा जिले में अलग-अलग घटनाओं में पांच लोगों की मौत हो गई. कुल्लू जिले को हाई अलर्ट पर रखा गया है. बताया जा रहा है कि इस दौरान 378 रोड बंद हैं.