नई दिल्लीः लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला की अपील के बाद लगभग तीन दर्जन सांसदों ने कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए अपनी सांसद निधि से एक-एक करोड़ रुपये स्थानीय प्रशासन को दान किए हैं. Also Read - लॉकडाउन: अमित शाह ने सभी मुख्यमंत्रियों को फोन कर पूछा, अब आगे क्या?

लोक सभा सदस्यों को शनिवार को लिखे पत्र में बिड़ला ने कहा था कि देश कोविड-19 के कारण कठिन परिस्थितियों से गुजर रहा है और जनप्रतिनिधि होने के नाते अपने लोगों के साथ खड़ा रहना हमारा दायित्व है. Also Read - स्मृति ईरानी ने कहा- कांग्रेस देश की चुनौतियों से फायदा उठाने की कोशिश में है, वो यही कर सकती है

बिड़ला ने सांसदों से अनुरोध किया था कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए वे अपनी सांसद निधि से एक-एक करोड़ रुपये स्थानीय प्रशासन को उपलब्ध कराएं. लोकसभा सूत्रों के अनुसार लगभग 35 सांसदों ने इस बाबत स्वीकृति पत्र भेज दिए हैं. Also Read - एक मई से 3736 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से 50 लाख प्रवासियों ने की यात्रा, यूपी-बिहार पहुंचीं सबसे ज्यादा ट्रेनें

आपको बता दें भारत में अब तक देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या एक हजार से अधिक पहुंच गई है और इससे अब तक 27 लोगों  अपनी जान गवाईहै. लोकसभा अध्यक्ष से पहले पीएम मोदी ने लोगों से इस महामारी से लड़ने में मदद के लिए पीएम राहत कोष में ज्यादा से ज्यादा दान देने की अपील की थी.