पणजीः गोवा के मंत्री माइकल लोबो ने शनिवार को मांग की कि महिलाओं के खिलाफ अपराध पर अंकुश लगाने और समाज में एक मजबूत संदेश भेजने के लिए बलात्कार और हत्या के मामलों में दोषी साबित हुए लोगों को सरेआम फांसी देनी चाहिए. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से ऐसे अपराधियों की सार्वजनिक फांसी देने के लिए कानून में संशोधन लाने का भी आग्रह किया.

उन्होंने हैदराबाद के पशु चिकित्सक से बलात्कार और हत्या मामले के सभी चार आरोपी शुक्रवार अल सुबह पुलिस के साथ ‘मुठभेड़’ में मारे जाने के एक दिन बाद यह मांग की. गोवा के पत्तन मंत्री ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, “महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर संज्ञान लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को बलात्कार और हत्या के दोषियों के लिए सार्वजनिक फांसी की सजा के प्रावधान करने के उद्देश्य से संसद में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) में आवश्यक संशोधन करना चाहिए.”

उन्नाव केसः धरने पर बैठे पूर्व सीएम अखिलेश यादव, पीड़िता के परिवार से मिलीं प्रियंका गांधी

उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों के मुकदमों को त्वरित अदालत में चलाकर पीड़ित को चार महीनों में न्याय दिलाने का कानून में संशोधन करना चाहिेए. मंत्री ने कहा, “तेलंगाना की घटना कोई सामान्य अपराध नहीं है. यह किसी इंसान की कल्पना से परे किया जाने वाला अपराध है. ऐसे अपराधियों के लिए हमारे समाज में कोई स्थान नहीं होना चाहिए. ऐसे अपराधियों को सरेआम फांसी दे देनी चाहिए.”