Parliament session:नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने मंगलवार को कहा कि जम्मू कश्मीर में इस साल 15 नवंबर तक आतंकवाद से जुड़ी घटनाओं में 40 आम नागरिक मारे गए और 72 घायल हो गए. यह जानकारी केंद्र सरकार ने संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान आज मंगलवार को दी है.Also Read - पाकिस्तान ने अब लाहौर में बढ़ते प्रदूषण के लिए भी भारत को जिम्मेदार ठहराया

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि जम्मू कश्मीर में पिछले पांच साल में आतंकवाद से जुड़ी घटनाओं में कुल 348 सुरक्षाकर्मी और 195 आम नागरिक मारे गए. Also Read - J&K: Republic Day से एक द‍िन पहले आतंक‍ियों ने श्रीनगर में सुरक्षाकर्मियों पर ग्रेनेड हमला किया, 4 लोग घायल

Also Read - Republic Day 2022: भारत-पाकिस्तान सीमा पर BSF जवान 'हाई-अलर्ट' पर

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने कहा कि इस साल 15 नवंबर तक 40 आम नागरिक मारे गये और 72 घायल हो गए. राय ने कहा कि 2017 में 40 आम नागरिक मारे गये जबकि 2018 और 2019 में 39-39 नागरिक तथा 2020 में 37 नागरिक मारे गए. राय ने कहा कि 2017 में 80 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए, जबकि 2018 में 91, 2019 में 80, 2020 में 62 और 2021 में अब तक 35 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए.

लोकसभा में गृह राज्‍य मंत्री ने दी ये जानकारी
2017  में मारे गए जम्मू-कश्मीर पुलिस कर्मियों सहित 80 सुरक्षा बल के जवान;
2018 में 91
2019 में 80,
2020 में 62
2021 में 35 ( 15 नवंबर तक)

आतंकी हिंसा में मारे गए नागरिक
2017 में 40 नागरिक मारे गए.
2018 में 39
2019 में 39
2020 में 37
2021 में और 40 (15 नवंबर तक)